• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jagannathpur
  • बच्चा चोर के संदेह में विक्षिप्त व मजदूर को पीटा, पुलिस पहुंची तो बची जान
--Advertisement--

बच्चा चोर के संदेह में विक्षिप्त व मजदूर को पीटा, पुलिस पहुंची तो बची जान

जैंतगढ़ क्षेत्र में बच्चा चोर का अफवाह नहीं थम रहा। सोमवार की सुबह करीब 10 बजे लोगों ने दो कथित बच्चा चोरों को धर...

Dainik Bhaskar

Jun 05, 2018, 02:45 AM IST
बच्चा चोर के संदेह में विक्षिप्त व मजदूर को पीटा, पुलिस पहुंची तो बची जान
जैंतगढ़ क्षेत्र में बच्चा चोर का अफवाह नहीं थम रहा। सोमवार की सुबह करीब 10 बजे लोगों ने दो कथित बच्चा चोरों को धर दबोचा। जब तफ्तीश की गई तो पता चला कि एक विक्षिप्त व दूसरा होटल में काम करने वाला मजदूर है। जगन्नाथपुर थाना अंतर्गत बांसकाटा गांव के सुखो चतोम्बा के पांच वर्षीय पुत्र राहुल चतोम्बा को एक कथित बच्चा चोर होने के आरोप में राहुल के दादा नेपाल ने जमकर पिटाई कर दी। इसके बाद गांव के लोग उग्र हो गए। पुलिस आउटपोस्ट से पहुंच कर आरोपी को फांडी लाई। गांव के लोग उग्र हो गए और थाना के सामने जुटकर कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना के बाद जगन्नाथपुर थाना के दारोगा अवधेश कुमार ठाकुर व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मनोज कुमार झा जैंतगढ़ फांडी पहुंचे। तफ्तीश में पता चला ये अफवाह मात्र था। राहुल के पिता ने भी माना कि आरोपी विक्षिप्त है। आरोपी तीरो कारुवा करंजिया गांव का रहने वाला है। वह मानसिक रूप से विक्षिप्त है। वह अपने नाना के घर सियालजोड़ा जा रहा था। रास्ते में बांसकाटा के लोग अफवाह का शिकार होकर इसे चोर समझ बैठे।

बंगाल पुरलिया निवासी अर्जुन माझी को राजावासा के ग्रामीणों ने सुबह 11 बजे बच्चा चोर के आरोप में पकड़ लिया। इसके बाद उनकी पिटाई शुरू कर दी। थाना प्रभारी अवधेश कुमार ठाकुर ने सूचना के बाद पुलिस टीम भेजी। इसके बाद अर्जुन को फांडी लाया। तफ्तीश में पता चला की अर्जुन हाटगम्हरिया के होटल में काम करता था। वह काम की तलाश में चम्पुआ जा रहा था।

केस एक


भास्कर न्यूज| जैंतगढ़

जैंतगढ़ क्षेत्र में बच्चा चोर का अफवाह नहीं थम रहा। सोमवार की सुबह करीब 10 बजे लोगों ने दो कथित बच्चा चोरों को धर दबोचा। जब तफ्तीश की गई तो पता चला कि एक विक्षिप्त व दूसरा होटल में काम करने वाला मजदूर है। जगन्नाथपुर थाना अंतर्गत बांसकाटा गांव के सुखो चतोम्बा के पांच वर्षीय पुत्र राहुल चतोम्बा को एक कथित बच्चा चोर होने के आरोप में राहुल के दादा नेपाल ने जमकर पिटाई कर दी। इसके बाद गांव के लोग उग्र हो गए। पुलिस आउटपोस्ट से पहुंच कर आरोपी को फांडी लाई। गांव के लोग उग्र हो गए और थाना के सामने जुटकर कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना के बाद जगन्नाथपुर थाना के दारोगा अवधेश कुमार ठाकुर व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मनोज कुमार झा जैंतगढ़ फांडी पहुंचे। तफ्तीश में पता चला ये अफवाह मात्र था। राहुल के पिता ने भी माना कि आरोपी विक्षिप्त है। आरोपी तीरो कारुवा करंजिया गांव का रहने वाला है। वह मानसिक रूप से विक्षिप्त है। वह अपने नाना के घर सियालजोड़ा जा रहा था। रास्ते में बांसकाटा के लोग अफवाह का शिकार होकर इसे चोर समझ बैठे।

पिटाई के बाद थाना में बैठा पीड़ित

रविवार रात एक विक्षिप्त युवक साढ़े दस बजे रात को जैंतगढ़ हाई स्कूल के सामने घूम रहा था। लोगों ने उसे बच्चा चोर का आरोप लगाकर पिटाई कर दी। उसके पास से रस्सी और कलच तार होने का अफवाह फैलाया गया। बांग्लादेशी के नाम पर हंगामा किया। जैंतगढ़ पेट्रोल पंप के स्टाफ ने बताया किसी ने ट्रक में बैठाकर उसे हाई स्कूल के पास उतार दिया था।

केस दो

X
बच्चा चोर के संदेह में विक्षिप्त व मजदूर को पीटा, पुलिस पहुंची तो बची जान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..