--Advertisement--

दो दिन बाद भी नहीं पहुंचे डॉ. मरीज गए निजी अस्पताल

बिना डॉक्टर के चल रहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी सहित चिकित्सक छुट्‌टी पर, मरीज परेशान भास्कर...

Danik Bhaskar | Jul 02, 2018, 02:45 AM IST
बिना डॉक्टर के चल रहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

प्रभारी सहित चिकित्सक छुट्‌टी पर, मरीज परेशान

भास्कर न्यूज। जगन्नाथपुर

रविवार को सामुदायिक स्वस्थ केंद्र के प्रभारी अवकाश पर रहे तो एक चिकित्सक भी मनमर्जी से छुट्टी पर थे। वहीं अस्पताल में इलाज करा रहे मरीज डॉक्टर के अभाव में अस्पताल छोड़ निजी अस्पताल जाने को विवश हो रहे। जगन्नाथपुर सीएचसी में संजय केशरी की प|ी प्रसव के लिए पहुंची थी। लेकिन अस्पताल से चिकित्सक नदारद थे। चिकित्सकों के नहीं रहने के कारण अस्पताल में कार्यरत अन्य कर्मचारी भी परेशान थे। वहीं मरीज भी परेशान रहे। क्योंकि डॉक्टर के निर्देश के बगैर नर्स या फर्मासिस्ट मरीज को दवा नहीं दे सकते। प्रसव पीड़ा से परेशान महिला डॉक्टर की घंटों इंतजार करती रही। इसी बीच अचानक उसकी पीड़ा बढ़ गई। अंत में संजय केसरी अपनी प|ी को प्रसव कराने के लिए जगन्नाथपुर सीएचसी से चाईबासा के निजी अस्पताल ले गए। जब जांच पड़ताल कि गई तो सूचना मिली की अस्पताल के प्रभारी सुशांतो कुमारी माझी पहले से ही अवकाश पर हैं। सीएचसी में पदस्थापित चिकित्सक डॉ पंकज महतो को 30 जून को ही योगदान देना था लेकिन वे 1 जुलाई को अपराह्न करीब 1 बजे तक अस्पताल नहीं पहुंचे थे। नतीजतन 28 व 30 जून को ओपीडी के साथ साथ आपातकालीन कक्ष भी बगैर चिकित्सक के ही चला।