• Home
  • Jharkhand News
  • Jagannathpur
  • सेंगेल अभियान ने विधायकों की शव यात्रा निकाल फूंका पुतला
--Advertisement--

सेंगेल अभियान ने विधायकों की शव यात्रा निकाल फूंका पुतला

विधायकों की शव यात्रा निकालते आदिवासी सेंगेल अभियान के कार्यकर्ता। भास्कर न्यूज| जगन्नाथपुर गुरुवार को...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 02:50 AM IST
विधायकों की शव यात्रा निकालते आदिवासी सेंगेल अभियान के कार्यकर्ता।

भास्कर न्यूज| जगन्नाथपुर

गुरुवार को आदिवासी सेंगेल अभियान के कार्यकर्ताओं ने भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के खिलाफ साप्ताहिक बाजार में 28 आदिवासी विधायकों की शव यात्रा निकालने के बाद पुतला दहन किया। इसका नेतृत्व प्रखंड संयोजक जयसिंह सिंकू ने किया। मौके पर जगन्नाथपुर प्रखंड अध्यक्ष सागर सिंकू आदि मौजूद थे। उन्होंने कहा कि भूमि अधिग्रहण कानून 2017 आदिवासियों का डेथ वारंट है। उधर हमारे आदिवासी विधायक ऊपर से कुड़मी, तेली घटवार को आदिवासी बनाकर आदिवासी अस्तित्व व पहचान को मिटाने पर तुले हैं। अध्यक्ष सागर सिंकू ने कहा कि जगन्नाथपुर विधानसभा की विधायक आदिवासी विरोधी हैं। वह अपने पति पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा को 4000 करोड़ के महाघोटाला से बचाने के लिए आदिवासियों की जमीन, जल, जंगल का राजनीतिक सौदा कर भाजपा को मौन समर्थन दे रही हैं। बीच बाजार में कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री रघुवर दास, विधायक गीता कोड़ा समेत सभी आदिवासी विधायकों का पुतला फूंका। मौके पर हेमंत सुरेन, लक्ष्मण गिलुवा, निरल पुरती, शशि भूषण सामड़, चंपई सोरेन मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। शव यात्रा विशाल टोला तालाब से मैरामसाई चौक तक निकाली गई। जिसमें मुन्न लागुरी, सागर सिंकू, जयसिंह सिंकू, उपेन्द सुण्डी, गोनो लागुरी, बेनी प्रसाद सिंकू, सोमनाथ दिग्गी, त्रिभुवन सिंकू, मदन हेस्सा, पौलुस कोड़ा, तुलसी केराई, पार्वती बालमुचू व तुलसी हेस्सा समेत सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे।