Hindi News »Jharkhand »Jaldega» जलडेगा का सावनाजारा बना नशामुक्त, गांव में नहीं बिकती शराब

जलडेगा का सावनाजारा बना नशामुक्त, गांव में नहीं बिकती शराब

सिमडेगा जिले के जलडेगा प्रखंड का सावनाजारा गांव नशामुक्त गांव बन गया है। जिले के अन्य गांवों में जहां लोग शराब के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 30, 2018, 02:50 AM IST

सिमडेगा जिले के जलडेगा प्रखंड का सावनाजारा गांव नशामुक्त गांव बन गया है। जिले के अन्य गांवों में जहां लोग शराब के नशे में धुत्त रहते हैं, वहीं सावनाजारा में शराब बनाने, बेचने और पीने पर पूरी तरह पाबंदी लगा दी गई है। ग्रामीणों की दृढ़ इच्छाशक्ति और एकजुटता के साथ लिए गए निर्णय ने गांव को अलग पहचान दिलाई है। यह तब्दीली कुछ ग्रामीणों के लंबे प्रयास के बाद संभव हो सका है।

जिला प्रशासन ने भी सावनाजारा को नशामुक्त गांव घोषित किया है। सावनाजारा राजस्व गांव में छह टोली हैं। जिसमें उदीटोली, मंगलटोली, गिरजाटोली, गंझूटोली, पाहनटोली और जामपानी में लगभग 165 परिवार रहते हैं। पहले गांव में लगभग चार दर्जन परिवार के लोग दारू और हड़िया बेचने का काम करते थे।

वर्ष 2015 में ग्रामसभा में गांव को नशामुक्त बनाने का प्रस्ताव पहली बार रखा गया। 2016 में फिर से इसे पूरी ताकत से लागू करने का निर्णय लिया गया और शराब बनाने बेचने वालों से दस हजार जुर्माना लेने की बात कही गई। ग्रामसभा की सहमति से सभी गांवों में निगरानी के लिए कार्यकर्ता रखे गए। ढाई साल के लगातार प्रयास के बाद अंतत: सफलता मिली और गांव अब नशामुक्त है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jaldega

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×