--Advertisement--

बर्न यूनिट में दूसरी माैत: अस्पताल मैनेजमेंट ने फिर जांच टीम बना 3 दिन में मांगी रिपोर्ट

एमजीएम अस्पताल में फिर बड़ी लापरवाही- पहले सुखदेव की मौत, अब सूरज बना शिकार।

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 08:33 AM IST
बर्न यूनिट में 25 वर्षीय युवक सू बर्न यूनिट में 25 वर्षीय युवक सू

जमशेदपुर. एमजीएम अस्पताल के बर्न यूनिट में सूरज नायक की मौत मामले में प्रबंधन ने फिर से सुखदेव की मौत की तरह ही जांच कमेटी बनाई है। अस्पताल के अधीक्षक डॉ. भारतेंदु भूषण ने सर्जरी विभाग प्रमुख डॉ. दिवाकर हांसदा, मेडिसिन विभाग के डॉ. एसके सिन्हा और चर्म रोग विभाग के डॉ. एएन झा को शामिल किया है। मामले की जांच कर तीन दिन में रिपोर्ट देना होगी। इससे पहले भी मानगो के सुखदेव की मौत के मामले में भी स्वास्थ्य सचिव के निर्देश पर अधीक्षक की अध्यक्षता में कमेटी गठित बनाई गई थी। रिपोर्ट में डाक्टरों की लापरवाही बताई गई थी, अब तक लेकिन कार्रवाई नहीं हुई।

बता दें कि डॉक्टरों की अनदेखी से सरजामदा निधि टोला के 25 वर्षीय सूरज की सोमवार को मौत हो गई थी। इधर, मामले पर स्वास्थ्य सचिव सुधीर त्रिपाठी ने अधीक्षक से सूरज की मौत मामले की रिपोर्ट मांगी है। अधीक्षक डॉ. भूषण ने बताया कि टीम दो-तीन दिन में रिपोर्ट देगी। फिर आगे की कार्रवाई होगी।

सुखदेव के दोषियों पर कार्रवाई अब तक नहीं

सुखदेव मामले में डॉक्टरों के साबित होने के बावजूद उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जांच रिपोर्ट स्वास्थ्य निदेशक डॉ. सुमंत मिश्रा के पास है। कार्रवाई के नाम पर जांच का हवाला दिया जा रहा है। हालांकि स्वास्थ्य सचिव सुधीर त्रिपाठी के अनुसार दोषी डॉक्टर हर हाल में कार्रवाई का सामना करेंगे।

परिजनों के साथ मिलेंगे अधीक्षक से : बहनोई

मृतक के बहनोई विजय मुखी ने कहा कि डीप बर्न सूरज की मौत अस्पताल में दवा देने के बाद हुई। यह डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही है। मामले से जुड़े प्रत्येक दोषी व्यक्ति पर कार्रवाई होनी चाहिए। हम मामले को लेकर अस्पताल के अधीक्षक से मिलेंगे। मैं खुद सूरज के परिजनों के साथ उनसे मिलने जाऊंगा।

सुखदेव मामला; डाॅक्टरों पर हर हाल में कार्रवाई होगी
सुखदेव की रिपोर्ट की समीक्षा के लिए हेल्थ डायरेक्टर को भेजा गया है। उनकी रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। डॉक्टर पर एफआईआर होने से विभाग की कार्रवाई प्रभावित नहीं होगी। पुलिस अपना काम करेगी और विभाग अपने स्तर पर कार्रवाई करेगा। दोषी चिकित्सकों पर हर हाल में कार्रवाई होगी।
-सुधीर त्रिपाठी, प्रधान सचिव, स्वास्थ्य विभाग

X
बर्न यूनिट में 25 वर्षीय युवक सूबर्न यूनिट में 25 वर्षीय युवक सू
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..