--Advertisement--

2 साल की बच्ची पर से गुजरी 5 ट्रेनें लेकिन खरोंच तक नहीं आई, बेहोश मां का दूध पीते मिली

आरपीएफ को अंदेशा है कि महिला खुदकुशी के इरादे से पहुंची थी। मामले की पड़ताल जारी है।

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:46 AM IST
रेल पटरी के बीचों बीच अपनी मां रेल पटरी के बीचों बीच अपनी मां

मनोहरपुर(झारखंड). हावड़ा-मुंबई रेलमार्ग पर जराईकेला के पास एक अज्ञात 2 साल की बच्ची के ऊपर से 5 मालगाड़ियां गुजर गईं, लेकिन उसे खरोंच तक नहीं आई। बहरहाल इस घटना में उस बच्ची की मां गंभीर रूप से जख्मी हो गई और वह अभी तक बेहोशी की हालत में है। आरपीएफ वालों ने दोनों को मौके से उठाकर इलाज के लिए मनोहरपुर के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया। आरपीएफ को अंदेशा है कि महिला खुदकुशी के इरादे से पहुंची थी। मामले की पड़ताल जारी है।

रेल पटरी के बीचों बीच अपनी मां की छाती से चिपक दूध पी रही थी बच्ची
घटना को लेकर मनोहरपुर आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर डीके सिंह ने बताया कि गुरुवार की शाम 18478 डाउन हरिद्वार-पुरी उत्कल एक्सप्रेस के चालक ने मनोहरपुर स्टेशन पर जराईकेला के निकट पोल संख्या 377 / 2 - 4 के पास किसी महिला के शव देखे जाने की सूचना दी। जब टीम मौके पर पहुंची तो 30 साल की एक महिला को गंभीरावस्था में पाया। उसके साथ ही 2 साल की बच्ची भी थी जो उसकी छाती से चिपककर उसका दूध पी रही थी।

तस्वीर दिखाकर लोगों से पूछताछ की गई

आरपीएफ की पड़ताल में पता चला कि उस बच्ची के ऊपर से 5 मालगाड़ियां गुजर चुकी थीं, लेकिन उसे कुछ नहीं हुआ था। समाचार लिखे जाने तक महिला बेहोशी में थी। वहीं बच्ची की देखभाल अौर इलाज के लिए यहां स्थित कुपोषण केंद्र में रखा गया है। शुक्रवार को जराईकेला, सुनसुना व रायकापाट गांव में जाकर महिला व बच्ची की तस्वीर दिखाकर लोगों से पूछताछ की, लेकिन अभी तक इनका सुराग नहीं मिल सका है।