--Advertisement--

फोन टेपिंग केस: मंत्री सरयू राय और पूर्व बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष पर आरोप तय

2011 लोस उप चुनाव में डॉ. अजय कुमार के फोन टेपिंग का मामला।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 09:34 AM IST
chagesheet against minister phone tapping case

जमशेदपुर. 2011 जमशेदपुर संसदीय उप चुनाव में झाविमो प्रत्याशी डॉ. अजय कुमार (वर्तमान में अध्यक्ष कांग्रेस प्रदेश) के फोन टेपिंग मामले में मंगलवार को संसदीय कार्यमंत्री सरयू राय और भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. दिनेशानंद गोस्वामी सीजेएम कोर्ट में पेश हुए। सीजेएम जीके तिवारी की कोर्ट में मंत्री राय व डॉ. गोस्वामी के खिलाफ आरोप तय हुआ। आरोप तय होने के वक्त मंत्री राय व पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. गोस्वामी कोर्ट में उपस्थित थे। मंत्री के वकील उदित सरकार व डॉ. गोस्वामी के अधिवक्ता देवेंद्र सिंह ने सीजेएम के समक्ष दलील दी कि आरोप झूठा है।

सीजेएम के दो सवाल: सरयू राय ने सभी आरोपों को किया खारिज

सवाल: आरोप है कि आपने टीवी व अखबारों के जरिए डॉ. अजय कुमार के मान सम्मान को ठेस पहुंचाया है?
जवाब : किसी के मान-सम्मान को ठेस नहीं पहुंचाया है। आरोप झूठे हैं।
सवाल : यह भी आरोप है कि चुनाव को प्रभावित करने का काम किया था?
जवाब: नहीं, यह आरोप भी गलत है। हमें झूठा फंसा रहे हैं।

मामले में कब-क्या हुआ

2011: डॉ. अजय पर नक्सली समर जी से बातचीत का आरोप

01 जुलाई 2011 को डॉ. गोस्वामी ने साकची थाने में डॉ. अजय व प्रभात भुइयां के खिलाफ नक्सली नेता समर जी से बातचीत की सीडी सौंप प्राथमिकी दर्ज कराई थी। 02 जुलाई को डॉ. अजय ने डॉ. गोस्वामी व सरयू राय पर साकची थाने में केस किया था।


2014: डॉ. अजय ने सीजेएम कोर्ट में दर्ज कराई शिकायत
डॉ. अजय के वकील सुधीर कुमार पप्पू ने कोर्ट में सबूत होने का दावा किया। मामले में 6 दिसंबर 2014 को सीजेएम कोर्ट ने सरयू राय व डॉ. गोस्वामी के खिलाफ आईपीसी की धारा 171 जी, 500, 120 बी के तहत संज्ञान लिया और सुनवाई का आदेश दिया।

2015: जिला जज की कोर्ट में गए डॉ. दिनेशानंद गोस्वामी
सीजेएम कोर्ट के संज्ञान लेने के विरोध में डॉ. गोस्वामी 2015 में जिला प्रधान जज की कोर्ट में पिटिशन दे सीजेएम कोर्ट का आदेश खारिज करने की अपील की। प्रधान जज ने पिटिशन खारिज कर सीजेएम कोर्ट के निर्णय को सही बताया। डॉ. गोस्वामी व राय को जमानत लेनी पड़ी। दोनों अभी जमानत पर हैं।

अब सुनवाई 11 फरवरी को
सरयू राय व डॉ. गोस्वामी काेर्ट में पेश हुए। दोनों पर आरोप तय हुए। अब अगली सुनवाई 11 फरवरी को है। - देवेंद्र सिंह, डॉ. गोस्वामी के अधिवक्ता
अवैध सीडी बनाने, फोन टेपिंग, सम्मान को ठेस पहुंचाने, चुनाव प्रभावित करने का आरोप तय हुआ। डॉ. अजय की गवाही 21 फरवरी को है। - सुधीर कुमार पप्पू, डॉ. अजय के वकील

X
chagesheet against minister phone tapping case
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..