Hindi News »Jharkhand »Jamshedpur »Jamshedpur» Colony Turn Into Aish After Woman Suicide

पति के ड्यूटी जाने से नाराज पत्नी ने खुद को जलाया, साथ ही पूरी बस्ती जलकर राख

आग से 150 लोग प्रभावित हुए हैं और लाखों रुपए का नुकसान हुआ।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 22, 2017, 03:30 AM IST

जमशेदपुर(झारखंड). वीकली ऑफ के दिन ड्यूटी पर जाने पर पत्नी ने झगड़ा कर लिया। दोनों में विवाद इतना बढ़ा कि गुस्से में पत्नी ने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। उनका घर तो जला ही, पूरी बस्ती जलकर राख हो गई। बस्ती में 45 घर थे। 60 साल की महिला जिंदा जल गईं। वे लकवाग्रस्त थीं। आग बुझाने के बाद शव निकाला जा सका।

घर में सिलेंडर फटने के बाद बस्ती में आग फैली

- कदमा उलियान बिजली सब स्टेशन के पास मरीन ड्राइव सड़क के किनारे बागे बस्ती में यह हादसा हुआ। पति सोनाराम लोहार से झगड़ा करने वाली ललिता लोहार (40 वर्ष) और उनका नाती मंगला (4 साल) गंभीर रूप से झुलस गए।

- 70 फीसदी डीप बर्न का केस होने से दोनों को टीएमएच में भर्ती कराया गया है। सोनाराम आंशिक रूप से जले। आधा दर्जन मवेशी झुलस कर मर गए।

- घटना के बाद से मंगला देवी नाम की महिला सदमे में हैं। वे भी टीएमएच के आईसीयू में हैं। आग से 150 लोग प्रभावित हुए हैं और लाखों रुपए का नुकसान हुआ। 5 दमकल व एक टैंकर ने दो घंटे में आग पर काबू पाया।

- बस्ती में अधिकतर घरों में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत एलपीजी का सिलेंडर मिला है। सोनाराम के घर में सिलेंडर फटने के बाद बस्ती में आग फैली। देखते ही देखते चार घरों में सिलेंडर फटे। इसके बाद तो अाग ने भयावह रूप ले लिया। चार बाइक भी राख हो गई।

आगबबूला पत्नी बोली- तुम्हें सिर्फ कंपनी का काम दिखता है, घर का नहीं

मैं रामकृष्ण फोर्जिन कंपनी में केजुअल कर्मचारी हूं। गुरुवार को वीकली ऑफ था। मैं ए शिफ्ट में सुबह पांच बजे काम पर चला गया। घर में खाने-पीने का सामान नहीं था। पत्नी ललिता लोहार ने कहा था कि कल सामान लाना जरूरी है। मैंने रात में पत्नी से कहा था कि कुछ पैसे का इंतजाम किया हूं। रात में दुकानें बंद थीं तो सामान नहीं खरीद सका। सुबह सामान खरीद कर लाऊंगा लेकिन कंपनी से फोन आने पर काम पर जाना पड़ा। सामान नहीं लाने से खाना नहीं बना। बच्चे भूखे थे। मैं ड्यूटी से आया तो पत्नी झगड़ने लगी। गुस्से में उसने अपने व मेरे शरीर पर केरोसिन छिड़क कहा- जब बच्चों को पाल नहीं सकते तो मर जाना बेहतर। तुम सिर्फ काम करते रहो और बच्चे खाने के लिए रोते रहे। उसने अचानक खुद को आग लगा ली। वह जलने लगी। मैंने आग बुझाने की कोशिश की, तभी घर में रखे गैस सिलेंडर में आग लग गई। देखते ही देखते आग की लपटें तेज हो गईं। मैंने खींचकर ललिता और बच्चों को बाहर निकाला। पत्नी की बड़ी बहन अमोला (60) लकवा ग्रस्त थीं। वे बिस्तर पर साेई थीं। उन्हें नहीं बचाया जा सका। बड़ी बेटी का 4 साल का बेटा मंगला भी झुलस गया। मेरे चार बच्चे हैं। दो लड़के और दो लड़की। बड़ा बेटा 13, छोटा 7 साल का है। घर का सारा सामान जल गया।

वीडियो : अनिल कुमार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jamshedpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pti ke dyuti jaane se naaraaj patni ne khud ko jlaayaa, saath hi puri bsti jlkar raakh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jamshedpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×