--Advertisement--

अपने बच्चों को सड़क पार कराने 15 हाथियों ने रोका रास्ता, एक घंटे जाम रहा ट्रैफिक

इस दौरान राहगीरों में अफरातफरी मची। वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 08:33 AM IST
जमशेदपुर-पटमदा मेन रोड पर बच्च जमशेदपुर-पटमदा मेन रोड पर बच्च

पटमदा(जमशेदपुर). डिमना अलकतरा फैक्ट्री के पास गुरुवारशाम 5 बजे 15 हाथियों ने एक घंटे तक ट्रैफिक जाम कर दिया। झुंड में हाथियों के 5 बच्चे भी थे। उन्हें पार कराने के लिए सड़क के बीच 15 हाथियों ने कब्जा कर लिया। इससे ट्रैफिक जाम हो गया। मुख्य सड़क से जमशेदपुर के लिए ज्यादा परिचालन होता है। पटमदा से कुछ शिक्षक टाटा लौट रहे थे। शिक्षक प्रबोध महतो व बिमल महतो ने बताया, इस दौरान राहगीरों में अफरातफरी मची। वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। हाथियों ने अपने बच्चों को सुरक्षित सड़क पार कराया और जंगल की ओर लौट गए।

हाथियों के गुजरने वाले रास्तों की पेंटिंग होगी

आयुक्त ब्रजमोहन कुमार ने गुरुवार को कहा, चांडिल क्षेत्र से हाथियों के गुजरने वाले 12 चिह्नित रास्तों की ईको फ्रेंडली पेंटिंग कराई जाएगी, ताकि उन्हें आसानी से रास्ता दिखे। यह काम सुवर्णरेखा परियोजना करेगी। इन रास्तों से हाथी ओडिशा और मध्य प्रदेश के जंगलों में प्रवेश करते हैं। मार्ग भूल चुके हाथियों को रास्ता दिखाने के लिए ये पेंटिंग बहुत मददगार होंगी।

इधर... हाथी लोगों का घर तोड़ रहे और गज परियोजना निदेशक को अपने घर में चोरी की चिंता

दलमा के निचले इलाके में हाथी घरों को तोड़ रहे व फसल नष्ट कर रहे हैं। लोगों में दहशत है। इसे रोकने की जिम्मेदारी गज परियोजना की है, लेकिन परियोजना के क्षेत्र निदेशक चंद्रमौली सिंह को खुद के आवास की सुरक्षा की चिंता ज्यादा है। उन्होंने गुरुवार को घर व कार्यालय की सुरक्षा के लिए आदेश जारी कर रेंज अफसर को पत्र भेजा। लिखा कि “मुझे काम से बार-बार मुख्यालय छोड़कर जाना पड़ता है। मेरे सरकारी आवास (आदित्यपुर) व कार्यालय की सुरक्षा की जिम्मेवारी वन क्षेत्र पदाधिकारी और वनपाल की होगी।’ सिंह का कहना है कि उनके आवास से पिछले महीने टीवी चोरी हो गई थी। इसलिए सुरक्षा संबंधी पत्र लिखा है।