Hindi News »Jharkhand News »Jamshedpur »Jamshedpur» Fraud With Sahara India Bank Manager

सहारा इंडिया के मैनेजर ने किसी को नहीं दिया चैक, खाते से 4.45 लाख निकाल गए

Bhaskar News | Last Modified - Feb 15, 2018, 07:22 AM IST

जिस चेक से 4 लाख रुपए निकाले गए, वह एक ग्राहक को केवल 5 हजार रुपए के लिए जारी किया था।
सहारा इंडिया के मैनेजर ने किसी को नहीं दिया चैक, खाते से 4.45 लाख निकाल गए

जमशेदपुर.जादूगोड़ा थाना अंतर्गत सहारा इंडिया के फ्रेंचाइजी मैनेजर नंदलाल गुप्ता के खाते से जाली चेक की मदद से कुल 4.45 लाख रुपए की निकासी कर ली गई। इसमें बैंक ऑफ इंडिया की कागलनगर शाखा से 29 जनवरी को 4 लाख रुपए और 30 जनवरी को 45000 रुपए की निकासी की गई। इस मामले में संदेह के आधार पर पुलिस ने तीन युवकों को हिरासत में लिया है।

चेक किसी को दिया नहीं था, बावजूद निकासी हो गई

मामले में नंदलाल गुप्ता ने बताया- उनके दो खाते बैंक ऑफ इंडिया की मेचुआ (जादूगोड़ा) में हैं। 30 जनवरी की शाम को उनके मोबाइल पर 45 हजार की निकासी का मैसेज आया। 31 जनवरी को जब वे बैंक में पता करने गए तो बताया गया- 29 जनवरी को उनके दूसरे खाते जो सहारा इंडिया के नाम से है, उससे 4 लाख रुपए की निकासी हुई है। बकौल नंदलाल, उन्होंने निजी खाते का चेक किसी को दिया नहीं था, बावजूद निकासी हो गई।

विदड्राअल करने वाले दोनों अारोपी एक ही जगह के

जिस चेक से 4 लाख रुपए निकाले गए, वह एक ग्राहक को केवल 5 हजार रुपए के लिए जारी किया था। इसके बाद वे बैंक मैनेजर लव कुमार के साथ कागलनगर शाखा गए और लिखित शिकायत की। वहां के शाखा प्रबंधक ने बताया- सोनारी निवासी समीर कुमार दास ने 4 लाख रुपए की निकासी की है। 45 हजार रुपए की निकासी करने वाला संतोष कुमार भी सोनारी का रहने वाला है।

पीआर बांड पर छोड़े गए तीनों युवक

नंदलाल ने बताया कि 14 फरवरी को सुबह लगभग 10 बजे दो युवक जादूगोड़ा स्थित उनके सहारा कार्यालय आए और फोटो लेने लगे। वे काफी पूछताछ भी कर रहे थे। चूंकि लगातार कुछ दिनों से नए लड़के कार्यालय आकर तरह-तरह की जानकारी ले रहे थे। इससे उन्हें युवकों पर शक हुआ। थोड़ी देर बाद दोनों युवक ऑफिस से निकले और कार से नरवा रोड गए। भाटिन में वे कुछ मीटिंग कर रहे थे। नंदलाल पुलिस के साथ वहां पहुंचे और पूछताछ करने लगे। इसी बीच कुछ लड़के भाग गए, लेकिन तीन लड़के पकड़े गए। इनमें हितेश चौधरी (कदमा) और सुंदरनगर के मनीष शर्मा व अभिषेक शामिल थे। तीनों को थाने ले जाया गया।

मामले में बैंक और समीर कुमार दोषी

पूछताछ में उन्होंने बताया- वे समीर अौर संतोष के दोस्त हैं। उनके बोलने पर ही यहां आए थे। इसके बाद तीनों को मुसाबनी डीएसपी के पास ले जाया गया। वहां पूछताछ के बाद तीनों को पीआर बांड पर छोड़ दिया गया। इस संबंध में जादूगोड़ा थाना प्रभारी प्रियंका आनंद ने बताया- इस मामले में बैंक और समीर कुमार दोषी है। वरीय अधिकारी को सब जानकारी दे दी गई है। मामले की जांच शुरू हो गई है।

जोनल ऑफिस में कर चुके थे शिकायत
नंदलाल 3 फरवरी को बैंक ऑफ इंडिया के जमशेदपुर के जोनल ऑफिस गए और शिकायत की। उनके पास जो भी ओरिजनल चेक था, उसे वहां जमा कर दिया गया। वहां उन्हें मामले की जांच करने की बात कही गई। जब 10 दिन बीत जाने पर भी कोई नतीजा नही निकला, तो पुनः 13 फरवरी को रिमाइंडर भेजा गया। बैंक द्वारा समीर कुमार का खाता भी बंद कर दिया गया है और जांच की जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jamshedpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: shaaraa India ke manager ne kisi ko nahi diyaa chaik, khaate se 4.45 laakh nikal gae
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Jamshedpur

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×