--Advertisement--

जेल से ही नेटवर्क चला रहा ये गैंगस्टर, 23 क्रिमिनल की मदद से कर रहा वसूली

दुमका जेल शिफ्ट हुआ गैंगस्टर अखिलेश पुलिस की चुनौती बना हुआ है।

Dainik Bhaskar

Dec 16, 2017, 08:10 AM IST
पत्नी के साथ गैंगस्टर अखिलेश। पत्नी के साथ गैंगस्टर अखिलेश।

जमशेदपुर/रांची. गैंगस्टर अखिलेश जेल में रहने के बाद भी पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है। वह अपने गैंग में अपराधियों को शामिल कर रहा है। जमशेदपुर के घाघीडीह जेल में बंद रहने के बावजूद वह पूरी तरह सक्रिय था। ऐसे में स्पेशल ब्रांच की रिपोर्ट के बाद गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अवर सचिव अविनाश चंद्र ठाकुर ने डीजीपी को 11.12.17 को पत्र लिखकर अखिलेश सिंह, आशीष श्रीवास्तव उर्फ भूरिया और नीरज सिंह पर कड़ी नजर रखने को कहा है। 13.11.2017 को स्पेशल ब्रांच के अपर पुलिस महानिदेशक अनुराग गुप्ता द्वारा डीजीपी को भेजे गए पत्र का भी उन्होंने हवाला दिया है। उन्होंने कहा कि स्पेशल ब्रांच के पत्र में वर्णित तथ्यों की बिंदुवार जांच कर नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई की जानी चाहिए।


- बता दें कि स्पेशल ब्रांच ने अखिलेश के जेल में बंद रहने के बावजूद सक्रिय रहने और गैंगवार की आशंका जताते हुए एक रिपोर्ट डीजीपी को भेजी थी। इसमें कहा गया था कि अखिलेश को दूसरे जेल में शिफ्ट किया जाना जरूरी है। इसके बाद ही घाघीडीह जेल में गैंगवार की आशंका को देखते हुए 29 नवंबर को अखिलेश को दुमका जेल शिफ्ट किया गया है।

- वहीं, अब गृह विभाग के अवर सचिव के द्वारा डीजीपी को पत्र भेजे जाने से साफ है कि दूसरे जेल में शिफ्ट होने के बाद भी अखिलेश गैंग की गतिविधियां जारी है। गैंगवार की आशंका पूरी तरह खत्म नहीं हुई। इस कारण अखिलेश के साथ आशीष श्रीवास्तव और नीरज सिंह पर भी कड़ी निगरानी रखे जाने की बात कही गई है।

जेल के अंदर दो गुटों में संघर्ष की है संभावना

स्पेशल ब्रांच की रिपोर्ट के अनुसार अमरनाथ सिंह परमजीत गुट का समर्थक है। वह उसके गुट के शूटर झब्बू को जेल से निकालने के प्रयास में है। सारे केस में बेल भी हो चुका है। वहीं, जेल में बंद रणजीत सिंह (टीन प्लेट) और गुरुमुख सिंह उर्फ मुखे डिमना रोड मानगो, हीरे पाजी अखिलेश सिंह के विरुद्ध काम करने के कारण निशाने पर बने हुए हैं। इसके अलावा जेल के अंदर गांधीवार्ड और अखिलेश सिंह के गुट के बीच कभी भी संघर्ष हो सकती है।

जेल में अखिलेश और परमजीत गुट के बीच हुई थी मारपीट

अखिलेश के घाघीडीह जेल में बंद रहने के दौरान उसका संपर्क आशीष श्रीवास्तव और नीरज सिंह से था। आशीष और राजेंद्र जेल के अंदर अखिलेश का सारा काम देखता है। 10.11.17 को आशीष और परमजीत गुट के झब्बू और रणजीत से मारपीट हुआ था, जिसके बाद उसे सेल में डाल दिया गया था।

जेल के अंदर-बाहर सक्रिय हैं अपराधी

स्पेशल ब्रांच की रिपोर्ट के अनुसार 23 लोग ऐसे हैं जो जेल के अंदर और बाहर रहकर अखिलेश के लिए सक्रिय हैं। इनमें से कुछ लोग लेवी वसूलने सहित व्यापारियों की गतिविधि की जानकारी अखिलेश तक पहुंचाते हैं। इसलिए अखिलेश को दूसरे जेल में शिफ्ट करने के साथ परमजीत सिंह के शूटर झब्बू , रणजीत सिंह, अमरनाथ और अखिलेश के विरोध में काम करने वाले गुरुमुख सिंह उर्फ मुखे सहित उसके 23 सक्रिय अपराधी, गैंग लीडर और सफेदपोश के खिलाफ सूचना संकलन कर कार्रवाई की जानी चाहिए।

स्पेशल ब्रांच ने सुजीत सिन्हा और लवकुश पर भी दी है अपनी रिपोर्ट

स्पेशल ब्रांच के एडीजी ने रांची जेल में बंद लवकुश शर्मा, जमशेदपुर जेल में बंद अखिलेश सिंह का शूटर कन्हैया सिंह और हजारीबाग जेल में बंद सुजीत सिन्हा के संबंध में भी गृह विभाग को रिपोर्ट सौंपी है। इसमें कहा गया है कि ये जेल के भीतर से ही रंगदारी वसूल रहे हैं। एडीजी ने सुजीत सिन्हा द्वारा हाल के दिनों में रांची अौर पलामू में व्यवसायियों से वसूली गई रंगदारी व अन्य घटनाओं के संबंध में एक रिपोर्ट को डीजीपी को भेजी है। साथ ही इनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करने के लिए संबंधित जिलों के एसपी को निर्देश देने का भी आग्रह किया है।


रांची और पलामू एसपी को आवश्यक कार्रवाई का निर्देश

एडीजी ने इस पूरे मामले में रांची और पलामू के एसपी को सुजीत सिन्हा के विरुद्ध दर्ज किए गए आपराधिक मामलों की समीक्षा कर जमानत रद्द करने की दिशा में आवश्यक कार्रवाई करते हुए उसकी पत्नी के विरुद्ध आवश्यक सूचना संकलन कर सभी प्रकार के निरोधात्मक कार्रवाई करने का निर्देश देने का आग्रह डीजीपी से किया है।

ये कर रहे अखिलेश को मदद

आशीष श्रीवास्तव उर्फ भूरिया, शंकी यादव, राजा शर्मा, गुड्डू पांडेय, अमित चौधरी, राजा सिंह, टीटू सरदार, पुच्चु (साउथ इंडियन), सीटी इन के मालिक विनोद सिंह, अनूप सिंह, प्रिंस, बलवीर सिंह, जसवीर सिंह, सत्येंद्र सिंह, गोला सिंह उर्फ मनोज सिंह, बिटटू मिश्रा, विनय सिंह वर्मा माइंस, बम भोला सिंह, सोनू चौधरी , मोनू चौधरी, मोनू दा, हरीश, अनिल सिंह।

X
पत्नी के साथ गैंगस्टर अखिलेश। पत्नी के साथ गैंगस्टर अखिलेश।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..