--Advertisement--

सीएम यहां जाएंगे शहीदों के स्मारक, सिक्युरिटी में 1400 पुलिस फोर्स और अफसर तैनात

खरसावां गोलीकांड के शहीदों को श्रद्धांजलि देने खरसावां शहीद स्मारक स्थल जाएंगे सीएम दास।

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 08:32 AM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास।                 - मुख्यमंत्री रघुवर दास। -

जमशेदपुर. मुख्यमंत्री रघुवर दास सोमवार को पहली जनवरी 1948 को शहीद हुए खरसावां गोलीकांड के शहीदों को श्रद्धांजलि देने खरसावां शहीद स्मारक स्थल जाएंगे। इस बार सीएम की सुरक्षा में सरायकेला-खरसावां जिला पुलिस कोई कोर कसर छोड़ना नहीं चाहती है। शहीद स्मारक से लेकर हेलीपैड स्थल तक सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा में 1200 से अधिक पुलिस बल तैनात होंगे। जिसमें आर्म्स जवान, लाठी पार्टी, महिला कर्मी, रैफ के जवान, जैप के जवान व ट्रेनिंग पुलिस की पार्टी शामिल हैं।

यह था मामला

सीएनटी व एसपीटी एक्ट संशोधन बिल के विरोध में पिछली बार एक जनवरी 2017 को खरसावां शहीद स्मारक स्थल पर रघुवर दास को आदिवासी संगठनों ने काले झंडे दिखाए थे। जिला प्रशासन ने आदिवासी संगठनों के प्रमुख नेता डेमका सोय समेत 200 के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई थी। मामले में सरायकेला खरसावां पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

डीसी-एसपी समेत कई पुलिस अधिकािरयों का हुआ था तबादला

इस घटना में राज्य सरकार ने तत्कालीन उपायुक्त के श्रीनिवासन, एसपी संजीव कुमार समेत खरसावां, सरायकेला, आदित्यपुर, आरआईटी, गम्हरिया थाना प्रभारी समेत कई थानेदारों का बड़े स्तर पर तबादला कर दिया था।

सीएम की सुरक्षा में 8 डीएसपी और 90 एसआई रहेंगे तैनात

- 900 पुलिस कर्मी दूसरे जिलों से
- 300 से अधिक पुलिस बल जिला बल से

- 90 पुलिस पदाधिकारियों

- 08 डीएसपी
- 90 एसआई

सरायकेला खरसावां एसपी चंदन कुमार सिन्हा के मुताबिक, सीएम के खरसावां शहीद स्मारक स्थल आने को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इस बार 1200 से अधिक पुलिस बल को सीएम की सुरक्षा में तैनात किया गया है। जबकि बाहर से पुलिस पदाधिकारियों जिसमें डीएसपी, इंस्पेक्टर व एसआई मिलाकर 100 पुलिस तैनात रहेंगे। सरायकेला खरसावां जिला में जितने भी थाना प्रभारी हैं, सभी सुरक्षा में रहेंगे। वे खुद भी सीएम की सुरक्षा में मुस्तैद रहेंगे।