जमशेदपुर

--Advertisement--

TI को धक्का क्या लगा, पुलिस ने सड़क जाम कर रहे कांग्रेसियों को यूं दौड़ाकर पीटा

बातों ही बातों में छोटे से मामले ने तूल पकड़ लिया और बड़ा हंगामा हो गया।

Danik Bhaskar

Dec 21, 2017, 08:55 AM IST
टैंपो चालक के समर्थन में चक्काजाम कर रहे थे कांग्रेसी टैंपो चालक के समर्थन में चक्काजाम कर रहे थे कांग्रेसी

जमशेदपुर. थाना प्रभारी को धक्का लगने के बाद बुधवार को सड़क जाम कर रहे कांग्रेस नेताओं पर पुलिस ने जमकर लाठी बरसाई। पुलिस ने साकची थाने से लेकर मस्जिद तक कांग्रेसियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। जिलाध्यक्ष विजय खां समेत दर्जनों कार्यकर्ता घायल हो गए। पुलिस कार्रवाई को बर्बरता बताते हुए कांग्रेसियों ने शाम को साकची गोलचक्कर पर मशाल जुलूस निकाला। जन समस्याओं को लेकर तय कार्यक्रम के तहत कांग्रेसियों ने साकची गोल चक्कर पर धरना दिया।

परिवार समेत केरोसिन साथ लाए कांग्रेसी ने सुनाया दुखड़ा

इस बीच कपाली मिल्लत नगर निवासी जीशान अंसारी, पत्नी और चार बच्चों के साथ वहां आ पहुंचा। केन में केरोसिन साथ लाया था। सभी ने आत्मदाह की धमकी देते हुए शरीर पर केरोसिन डाल लिया। कांग्रेसियों ने उसका दुखड़ा सुना।

उसने बताया कि टेंपो (जेएच05टी 4250) को मंगलवार की शाम साकची आई अस्पताल के पास ट्रैफिक पुलिस ने नो पार्किंग जोन से पकड़ा। टेंपो को साकची यातायात थाना ले गई और कागजात मांगे। जीशान के अनुसार डेढ़ वर्ष पूर्व उसने 30 हजार रुपये में टेंपो खरीदा है। उसके पास टेंपो के कागजात नहीं है। न ही रूट परमिट।

चोट से कराहते हुए इधर-उधर पड़े थे कांग्रेसी

- कांग्रेसियों ने जीशान को समझाइश दी। परिवार को लेकर कांग्रेसी साकची थाना पहुंचे। दोपहर एक बजे कांग्रेसियों ने पुलिस के रवैये के खिलाफ साकची थाने की मुख्य सड़क को जाम कर दिया। कांग्रेसी जीशान अंसारी के टेंपो छोड़ने के एवज में 30-35 हजार रुपए मांगने का विरोध कर रहे थे। जाम से आवागमन बाधित हो गया।

- पुलिस ने मनाया पर नहीं माने। लंबा जाम लग गया। पुलिस जबरन नेताओं को हटाने लगी। इसी बीच पुलिस ने युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महासचिव ज्योतिष कुमार को जबरन पकड़कर साकची थाने ले गई। ज्योतिष कुमार को थाना ले जाते देख कांग्रेस कार्यकर्ता उग्र हो गए।

- कांग्रेस कार्यकर्ता साकची थाना परिसर में घुसकर ज्योतिष को छुड़ाने का प्रयास करने लगे। थाने में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने साकची थाना प्रभारी को धक्का दे दिया। इसके बाद तो क्या था, पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठियां बरसाई। सड़क पर एक-एक कांग्रेस नेताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा।

- कुछ देर के लिए साकची थाना और उसके सामने की सड़क पर भगदड़ मच गई। महिला कार्यकर्ता अपनी चप्पल और सैंडिल छोड़कर इधर-उधर भागने लगीं। चोट से कराह रहे नेता सड़कों पर इधर-उधर पड़े हुए थे। जिलाध्यक्ष विजय खां को भी खूब पीटा, उन्हें एमजीएम अस्पताल के बाद टीएमएच में भर्ती कराया गया है।

सिटी एसपी बोले- थाने में पथराव करने पर उतारू थे

लाठीचार्ज पर जमशेदपुर पुलिस ने सफाई दी है। सिटी एसपी प्रभात कुमार ने कहा, टेंपो चालक से कागजात मांगा था। पैसे की मांग नहीं की गई थी। कांग्रेस नेताओं को यदि शिकायत थी तो उनको वरीय अधिकारियों से बात करनी चाहिए थी। लोग साकची थाने में घुसकर हंगामा कर रहे थे। पथराव भी किया। इसके बाद पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। सड़क जाम करने वालों पर एफआईआर दर्ज होगी।

डॉ. अजय ने कहा- यह रघुवर दास सरकार का गुंडा राज है

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार ने कहा, न्याय की आवाज उठाने पर पुलिस लाठियां बरसा रही है। लोगों को न्याय नहीं मिल रहा है। सरकार आवाज को कुचलने की कोशिश कर रही है। मुख्यमंत्री रघुवर दास का गुंडा राज चल रहा है। न्याय मांग रहे कांग्रेस नेताओं पर इतनी बर्बरता बरती तो फिर आम लोगों का राज्य में क्या हाल हो रहा है। साकची में कांग्रेस नेताओं पर लाठी चार्ज मानवता पर हमला है।

Click to listen..