--Advertisement--

4 साल की बच्ची के साथ 19 साल के लड़के ने किया रेप, मासूम को कर दिया था लहुलूहान

जब आरोपी को कोर्ट में पेशी के लिए ले जाया जा रहा था तो पूछने पर पुलिस ने आरोपी युवक को विक्षिप्त बताया।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 03:00 AM IST

राजनगर (चाईबासा). राजनगर थाना एरिया के एक गांव में 4 साल की बच्ची के साथ 19 साल के बहादुर ज्योतिषी नाम के लड़के ने रेप किया। आरोपी ने बच्ची को घर में अकेला पाकर वारदात को अंजाम दिया। घटना सोमवार की है। बच्ची को लहूलुहान करने के बाद आरोपी छोड़कर भाग गया। मंगलवार को मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी युवक को उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

घर पर नहीं थे मम्मी-पापा

पीड़िता की मां ने बताया कि वह बर्तन धोने तालाब गई थी। बच्ची के पिता किसी काम से दूसरे गांव गए थे। घर लौटी तो देखा कि बच्ची लहूलुहान अवस्था में रो रही है। मां के बार-बार पूछने पर उसने युवक का नाम लेकर आपबीती सुनाई। मामले की सूचना के बाद ग्राम प्रधान भी पहुंचे और मामले को सुलझाने का प्रयास किया। बच्ची का खून बहना बंद नहीं होने की स्थिति में मामला थाना पहुंचा और पीड़िता के पिता ने राजनगर थाना में पूरी घटना की लिखित शिकायत दर्ज कराई। हालांकि इस मामले में दैनिक भास्कर के प्रतिनिधि ने राजनगर थाना के प्रभारी वेदानंद झा से मामले के संबंध में पूछा तो उन्होंने बताने से इनकार कर दिया।

पुलिस ने आरोपी को उसके घर से धर दबोचा

पुलिस के वाहन से ही पीड़ित बच्ची को सरायकेला सदर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां पीड़िता के पिता और बड़ी बहन की मौजूदगी में बच्ची का इलाज चल रहा है। घटना के संबंध में प्रभारी थाना इंचार्ज सह इंस्पेक्टर वेदानंद झा जानकारी देने में आनाकानी करते रहे। हालांकि आरोपी को पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेजा। एसपी चंदन सिन्हा ने बताया कि घटना के बाद पुलिस ने आरोपी युवक बहादुर ज्योतिषी को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पीड़िता के गांव का ही रहनेवाला है।

पुलिस ने आरोपी को बताया विक्षिप्त, पर गांववालों का इनकार

जब आरोपी को कोर्ट में पेशी के लिए ले जाया जा रहा था तो पूछने पर पुलिस ने आरोपी युवक को विक्षिप्त बताया। वहीं आरोपी के संबंध में गांववालों से पूछने पर किसी ने भी युवक को विक्षिप्त नहीं कहा और न ही कभी विक्षिप्त जैसी हरकत करने की बात बताई। इससे पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठ रहे हैं। मंगलवार की सुबह 9 बजे के आसपास पीड़ित बच्ची की मेडिकल जांच कराई गई। सदर अस्पताल के डीएस डॉ नकुल चौधरी की देखरेख में मेडिकल जांच कराई गई। पीड़िता अपने पिता के साथ अस्पताल पहुंची थी।