Hindi News »Jharkhand »Jamshedpur »Jamshedpur» Mla Sanjeev Singh Shifted To Dhanbad Jail

आरोपी MLA काे धनबाद जेल शिफ्ट करने का आदेश, वकील बोले- जेल A कैटेगरी का नहीं

MLA की जेल शिफ्टिंग न कराने की रिक्वेस्ट पर जज बोले- जब आडवाणी को समस्तीपुर में गिरफ्तार किया, तो वहां सुविधाएं थीं?

Bhaskar News | Last Modified - Feb 15, 2018, 07:47 AM IST

आरोपी MLA काे धनबाद जेल शिफ्ट करने का आदेश, वकील बोले- जेल A कैटेगरी का नहीं

धनबाद.पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या में नामजद आरोपी झरिया विधायक संजीव सिंह को रांची की होटवार जेल से धनबाद जेल शिफ्ट करने का आदेश अदालत ने दिया है। एडीजे 7 सत्यप्रकाश ने बुधवार को इस संबंध में धनबाद जेल अधीक्षक को आदेश जारी किया। बचाव पक्ष के अधिवक्ता मोहम्मद जावेद ने अदालत से संजीव सिंह को धनबाद जेल शिफ्ट कराने का आग्रह किया, जबकि अभियोजन पक्ष से सरकारी वकील टीएन उपाध्याय ने धनबाद जेल में सुरक्षा-सुविधाओं का अभाव बताकर इसका विरोध किया। इस पर कोर्ट ने टिप्पणी की कि साल 1990 में जब रथ यात्रा निकालनेवाले लालकृष्ण आडवाणी को समस्तीपुर में गिरफ्तार किया गया था, तो क्या वहां की जेल ए श्रेणी की थी? बाद में अभियोजन पक्ष ने बहस करने के बजाय निर्णय कोर्ट पर छोड़ दिया।

पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह सहित 4 की हुई थी गोली मारकर हत्या

गौरतलब है कि 16 जनवरी को हाई कोर्ट के जस्टिस आर मुखोपाध्याय ने विधायक संजीव सिंह को होटवार जेल भेजने के सीजेएम के आदेश को निरस्त कर फ्रेश आॅर्डर पास करने का आदेश दिया था। 19 अप्रैल 2017 को सीजेएम राजीव रंजन ने धनबाद जेल अधीक्षक के पिटीशन का हवाला देकर विधायक संजीव को होटवार जेल भेजने का आदेश दिया था। 21 मार्च 2017 को पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह सहित चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस संबंध में 11 अप्रैल 2017 को आरोपी विधायक संजीव सिंह को धनबाद जेल भेजा गया था। सुनवाई के लिए अगली तारीख 28 फरवरी 2018 तय की गई है।

कोर्ट रूम लाइव

बचाव पक्ष : मुवक्किल संजीव सिंह को मानसिक रूप से परेशान करने के लिए होटवार जेल भेजा गया है। उन्हें धनबाद जेल लाया जाए।
अभियोजन पक्ष : जेल अधीक्षक के पिटीशन के आधार पर संजीव सिंह को होटवार जेल भेजा गया है।
बचाव पक्ष : स्टेट ऑफ महाराष्ट्र वर्सेस सैय्यद सोहेल शेख और संजय भगत वर्सेस स्टेट ऑफ झारखंड में ऊपरी कोर्टों ने स्पष्ट रूलिंग दी है कि जहां केस का ट्रायल चल रहा हो, आरोपी को वहीं की जेल में रखा जाए।
जज : अभियोजन अपना पक्ष रखे।
अभियोजन पक्ष : धनबाद जेल ए श्रेणी की नहीं है। विधायक को यहां रखना मुनासिब नहीं होगा।
जज : सुरक्षा का मसला राज्य सरकार का काम है।
अभियोजन पक्ष : ए श्रेणी की जेल नहीं होने से विधायक की मिलने वाली सुविधा-सुरक्षा मानक पर खरा नहीं उतरेंगी।
जज : जब साल 1990 में लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार किया गया, तो क्या वहां ए श्रेणी की जेल थी क्या? गेस्ट हाउस को जेल बनाकर रखा गया था।
अभियोजन पक्ष : आप जैसा मुनासिब समझें। आपका ऑर्डर मंजूर होगा।
जज : ठीक है। जेल अधीक्षक को आदेश दिया जाता है कि वे आरोपी को धनबाद जेल लेकर आएं।

संजय, धनजी, सोनू और शिबू पर चार्जफ्रेम के लिए 28 की तारीख तय
नीरज हत्याकांड में प्राथमिकी अभियुक्तों संजय सिंह, धनंजय सिंह उर्फ धनजी सिंह और अप्राथमिकी अभियुक्त सोनू उर्फ कुर्बान अली तथा रोहित सिंह उर्फ शिबू का डिस्चार्ज पिटिशन खारिज कर दिया गया। अदालत ने आरोप गठन के लिए 28 फरवरी की तारीख तय की। एडीजे 7 सत्यप्रकाश की अदालत ने बुधवार को आदेश पारित कर चारों का पिटीशन खारिज किया। बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता कुमार मनीष ने अदालत में टाइम पिटीशन फाइल किया था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jamshedpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×