--Advertisement--

गर्लफ्रेंड से मिलने गया तो इलाके के दबंग ने पीटा, बदला लेने सीने में दाग दी गोलियां

इस मामले में पुलिस अबतक 4 लोगाें को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

Danik Bhaskar | Dec 31, 2017, 10:10 AM IST

जमशेदपुर. साकची पुलिस ने निरंजन सिंह हत्याकांड के शूटर बागबेड़ा निवासी रोहित सिंह उर्फ पटपट को शनिवार को जेल भेज दिया। शुक्रवार को उसने बागबेड़ा पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया था। बागबेड़ा पुलिस ने फिर उसे साकची पुलिस के हवाले कर दिया। रोहित ने पुलिस को बताया- वह अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जुगसलाई जाता था। उसकी गर्लफ्रेंड निरंजन सिंह के घर के पास रहती थी। इसे लेकर डेढ़ माह पूर्व निरंजन सिंह ने उसके साथ मारपीट की थी। पिटाई का बदला लेने के लिए उसने सहयोगियों के साथ मिलकर निरंजन की हत्या की।

क्षत्रिय महासभा की युवा इकाई का जिला उपाध्यक्ष था निरंजन सिंह

- 19 दिसंबर की शाम गैंगवार में बदमाशों ने जुगसलाई सफीगंज मोहल्ला के रहने वाले निरंजन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। शाम करीब 6 बजे नागरमल मॉल के पीछे हत्या कर बदमाश आमबागान की ओर बाइक से फरार हो गए। निरंजन सिंह जमशेदपुर टाइगर क्लब का अध्यक्ष और क्षत्रिय महासभा की युवा इकाई का जिला उपाध्यक्ष था।

CCTV फुटेज में मिली गोली मारने वाले की तस्वीर

- परिजनाें ने मामले में जेल से जमानत पर छूटे और रंगदारी मांगने के आरोपी पंकज दुबे के चचेरे भाई नीरज दुबे और मानगो के आलमगीर और आरिफ पर हत्या का आरोप लगाया है। नीरज भी जुगसलाई का रहनेवाला है।

- पुलिस के मुताबिक, निरंजन पहले पंकज के साथ रहता था, लेकिन हाल के दिनों में वह गैंगस्टर अखिलेश सिंह के करीब हो गया था। पुलिस ने मौका-ए-वारदात से दो खोखे बरामद किए। दुकान में लगे CCTV फुटेज की जांच में निरंजन को गोली मारने वाले युवक की तस्वीर मिली है।

- इस मामले में पुलिस अबतक अमन मिश्रा, संतोष सिंह, संतोष पांडेय और गौतम कुमार सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।