जमशेदपुर

--Advertisement--

गैंगस्टर के करीबी की मौत के बाद हंगामा, लाश लेकर जा रही वैन के पीछे दौड़ी बहन

अस्पताल के गेट पर हंगामा और मेन रोड जाम के बाद बुलानी पड़ी पुलिस फोर्स।

Danik Bhaskar

Dec 21, 2017, 05:40 AM IST
भाई की लाश लेकर जा रही वैन के पीछे दौड़ती बहन। भाई की लाश लेकर जा रही वैन के पीछे दौड़ती बहन।

जमशेदपुर. युवा क्षत्रिय सभा के जिला उपाध्यक्ष और गैंगस्टर अखिलेश सिंह के करीबी निरंजन सिंह की आपसी रंजिश में हुई हत्या मामले में पुलिस को आरोपियों का सुराग मिला है। इस मर्डर को बहुत ही शातिराना तरीके से प्लान कर अंजाम दिया गया। वहीं, मृतक के परिजनों ने लाश को हॉस्पिटल से ले जाने से मना कर दिया। जिसके बाद जमकर हंगामा हुआ। यहां तक की लाश लेकर जा रही वैन के पीछे मृतक की बहन ने दौड़ लगाकर रोकने की कोशिश भी की। गुस्साए लोगों को समझाने पुलिस के आला अफसरों को आना पड़ा।

CCTV फुटेज में मिली गोली मारने वाले की तस्वीर

- बता दें, मंगलवार की शाम गैंगवार में बदमाशों ने जुगसलाई सफीगंज मोहल्ला के रहने वाले निरंजन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। शाम करीब 6 बजे नागरमल मॉल के पीछे हत्या कर बदमाश आमबागान की ओर बाइक से फरार हो गए।

- परिजनाें ने मामले में जेल से जमानत पर छूटे और रंगदारी मांगने के आरोपी पंकज दुबे के चचेरे भाई नीरज दुबे और मानगो के आलमगीर और आरिफ पर हत्या का आरोप लगाया है। नीरज भी जुगसलाई का रहनेवाला है।

- पुलिस के मुताबिक, निरंजन पहले पंकज के साथ रहता था, लेकिन हाल के दिनों में वह गैंगस्टर अखिलेश सिंह के करीब हो गया था। पुलिस ने मौका-ए-वारदात से दो खोखे बरामद किए। दुकान में लगे CCTV फुटेज की जांच में निरंजन को गोली मारने वाले युवक की तस्वीर मिली है।

- मृतक के पिता रामेश्वर सिंह के बयान पर साकची थाना में जुगसलाई निवासी नीरज दुबे, मानगो के आलमगीर, आरिफ व अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

- आरोपियो ने फोन कर निरंजन को साकची नागरमल मॉल के पीछे गली में बुलाया था। मंगलवार की शाम नागरमल मॉल के पीछे सुनसान स्थल पर निरंजन स्कूटी से आया था। इसी बीच उसका पीछा कर रहे युवक ने पीछे से गोली मार दी।

हंगामे को देखते हुए बुलानी पड़ी पुलिस फोर्स

- निरंजन सिंह की हत्या मामले में बुधवार को परिजनों ने लाश को अस्पताल से ले जाने पर रोक दिया। गुस्साए परिजनों ने अस्पताल के गेट पर हंगामा किया। मेन रोड भी जाम कर दी।

- परिजन हत्यारे की गिरफ्तारी तक लाश अस्पताल से नहीं ले जाने पर अड़े थे। 24 घंटे के अंदर हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की। गिरफ्तार नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी।

- जानकारी मिलने पर थाना की पुलिस के अलावा काफी तादाद में फोर्स पहुंची। पुलिस ने पहले समझाने की कोशश की, लेकिन गुस्साए लोग नहीं माने।

- मौके पर पहुंचे सिटी डीएसपी ने कार्रवाई का भरोसा दिलाया, जिसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ और लाश पोस्टमार्टम के लिए ले जाने दी। पोस्टमार्टम के बाद मृतक की लाश का अंतिम संस्कार किया गया।

हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एमजीएम अस्पताल में हंगामा करते लोग। हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एमजीएम अस्पताल में हंगामा करते लोग।
CCTV में हमलावर(लाल घेरे में) पीछे से आया और निरंजन पर गोली चला दी। CCTV में हमलावर(लाल घेरे में) पीछे से आया और निरंजन पर गोली चला दी।
CCTV में गोली चलाकर भागता हुआ बदमाश। CCTV में गोली चलाकर भागता हुआ बदमाश।
निरंजन सिंह जमशेदपुर टाइगर क्लब का अध्यक्ष व क्षत्रिय महासभा की युवा इकाई का जिला उपाध्यक्ष था। निरंजन सिंह जमशेदपुर टाइगर क्लब का अध्यक्ष व क्षत्रिय महासभा की युवा इकाई का जिला उपाध्यक्ष था।
गोली चलाने के बाद भीड़ से यूं गायब हो गया हमलावर। गोली चलाने के बाद भीड़ से यूं गायब हो गया हमलावर।
हत्या का विराेध करते लोगों पर पुलिस ने अस्पताल के बाहर भांजी लाठी। हत्या का विराेध करते लोगों पर पुलिस ने अस्पताल के बाहर भांजी लाठी।
बेटे की हत्या की खबर मिलने पर एमजीएम अस्पताल पहुंचे माता-पिता। बेटे की हत्या की खबर मिलने पर एमजीएम अस्पताल पहुंचे माता-पिता।
अस्पताल में निरंजन की लाश देखते ही परिजन फूट पड़े। अस्पताल में निरंजन की लाश देखते ही परिजन फूट पड़े।
निरंजन की हत्या के बाद मौका-ए-वारदात की जांच करती पुलिस। निरंजन की हत्या के बाद मौका-ए-वारदात की जांच करती पुलिस।
गैंगस्टर अखिलेश सिंह गैंग का शूटर राजीव रंजन। गैंगस्टर अखिलेश सिंह गैंग का शूटर राजीव रंजन।
Click to listen..