• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • खुद नेक रास्ते पर अमल करें और दूसरों को भी सीख दें, यही इस्लाम का तरीका : मौलाना
--Advertisement--

खुद नेक रास्ते पर अमल करें और दूसरों को भी सीख दें, यही इस्लाम का तरीका : मौलाना

Jamshedpur News - कपाली में आयोजित तबलीगी जमात का तीन दिवसीय इज्तेमा रविवार पूर्वाह्न 11.30 बजे सामूहिक दुआ के साथ संपन्न हो गया। इस...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:40 AM IST
खुद नेक रास्ते पर अमल करें और दूसरों को भी सीख दें, यही इस्लाम का तरीका : मौलाना
कपाली में आयोजित तबलीगी जमात का तीन दिवसीय इज्तेमा रविवार पूर्वाह्न 11.30 बजे सामूहिक दुआ के साथ संपन्न हो गया। इस अवसर पर सैकड़ों की संख्या में मौजूद लोगों ने अल्लाह से देश-दुनिया में अमन-शांति और लोगों को नेक रास्ते पर चलाने की दुआ की। करीब आधे घंटे तक मुफ्ती असदउल्लाह ने रोते हुए लोगों की हिफाजत, नेक रास्ते पर चलने, इंसानियत और ईमान के रास्ते पर चलाने, परेशानियों को दूर करने की दुआ की।

इससे पूर्व सुबह में मेवात के मौलाना अब्दुल रशीद ने कहा- मुसलमान पैगंबर हजरत मोहम्मद (सअ) के उम्मत हैं। उनकी पहली सिफत (गुण) इंसानियत होनी चाहिए। जलन, ईर्ष्या और घमंड से बचना चाहिए। खुद को बड़ा समझने के बजाय दूसरों का ध्यान रखे और इंसानियत की भलाई करें। उन्होंने कहा- ईमान और अमल (कर्म) के लिए नीयत-ए-अखलास (शुद्घि) होनी चाहिए। खुद भी नेक रास्ते पर अमल करें और दूसरों को भी इस राह चलने की सीख दें। यह इस्लाम का एक तरीका है। तीन दिवसीय इज्तेमा के दौरान तीनों जिलों और दूसरी जगहों से आए लोगों में से 65 जमात बनाई गई। जमात में शामिल लोग धार्मिक कार्य में अपना समय व्यतीत करेंगे और गांव-शहर जाकर लोगों को इंसानियत का पैगाम देंगे। शाम की नमाज के बाद इज्तिमागाह से ये जमातें देश के विभिन्न हिस्सों में चार महीने के भ्रमण पर निकलीं। इनमें दो जमात विदेश जाएंगी।

65 जमात बनीं, दो जाएंगे विदेश

X
खुद नेक रास्ते पर अमल करें और दूसरों को भी सीख दें, यही इस्लाम का तरीका : मौलाना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..