--Advertisement--

नीट परीक्षा के सब्जेक्ट को लेकर गफलत में छात्र

Jamshedpur News - बीएएमएस, बीएचएमएस और यूनानी कोर्स के फॉर्म ही नहीं खुले 12वीं में अतिरिक्त विषय बायोलॉजी लेने वाले परेशान डीबी...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:45 AM IST
नीट परीक्षा के सब्जेक्ट को लेकर गफलत में छात्र
बीएएमएस, बीएचएमएस और यूनानी कोर्स के फॉर्म ही नहीं खुले

12वीं में अतिरिक्त विषय बायोलॉजी लेने वाले परेशान

डीबी स्टार
सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) के नियमों के मुताबिक हायर सेकंडरी में मैथ्स के साथ बायोलॉजी को अतिरिक्त सब्जेक्ट के तौर पर लेने वाले छात्र इस बार नीट में शामिल नहीं हो सकते हैं।

इसी प्रकार एमबीबीएस के साथ बीएएमएस, बीएचएमएस व यूनानी कोर्स में प्रवेश देने के आदेश जारी हो गए, लेकिन विज्ञापन में बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी (एमबीबीएस), बैचलर ऑफ डेंटिस्ट (बीडीएस) की जानकारी शो हो रही है। बैचलर ऑफ आयुर्वेद मेडिसिन एंड सर्जरी (बीएएमएस), बैचलर ऑफ होम्योपैथी मेडिसिन एंड सर्जरी (बीएचएमएस), यूनानी व नेचुरोपैथी कोर्स का कॉलम न होने से प्रवेश के लिए तैयारी कर रहे छात्र परेशान हैं। विज्ञापन में बताया ही नहीं गया कि इन विषय में क्या सिलेबस है और क्या मानक हैं।

नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) के विषयों को लेकर लाखों छात्रों के बीच गफलत की स्थिति बन गई है। पहले तो नीट का आयोजन कराने वाले सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन के अफसरों ने मैथ्स के साथ बायोलॉजी विषय के छात्रों को इस परीक्षा में शामिल होने की परमिशन ही नहीं दी। इसके बाद जब ऑनलाइन फॉर्म खुले, तो उसमें आयुर्वेद, होम्योपैथ और यूनानी विषयों का उल्लेख ही नहीं है। अब छात्र इसमें परिवर्तन कराने की मांग कर रहे हैं।

वर्ष की आयु तक के छात्र ही दे सकेंगे नीट

8 फरवरी से 9 मार्च तक होंगे ऑनलाइन आवेदन, 6 मई 2018 को देश भर में होगी नीट की परीक्षा

हजारों छात्रों की मेहनत पर फिरा पानी

जमशेदपुर के महात्मा गांधी मेमाेरियल मेडिकल कॉलेज, सिंहभूम होमियोपैथी कॉलेज सहित प्रदेश के हजारों छात्रों की मेहनत पर सीबीएसई के नए नियम ने पानी फेर दिया है। ये छात्र जब एमबीबीएस कोर्स के लिए एंट्रेस टेस्ट नीट का ऑनलाइन फॉर्म भरने कियोस्क सेंटर पहुंचे, तो उन्हें पता चला कि मेन सब्जेक्ट मैथ्स व एडिशनल सब्जेक्ट बायोलॉजी लेकर इंटर पासआउट छात्र नीट नहीं दे सकेंगे। इससे पहले हर साल बायोलॉजी को एडिशनल सब्जेक्ट के रूप में लेने वाले छात्रों को सीबीएसई नीट के लिए पात्र मानता था। गौरतलब है कि नीट की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 8 से शुरू हो गई है। फॉर्म भरने की लास्ट डेट नौ मार्च है। सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस 1400 रुपए है।

समस्या का समाधान कराएंगे

 नीट के लिए अतिरिक्त विषय वाले छात्रों को बाहर कर दिया गया है। इस संबंध में सीबीएसई के अफसरों से जानकारी लेंगे तथा छात्रों की समस्या का समाधान कराएंगे।  रामचंद्र चंद्रवंशी, शिक्षा मंत्री, झारखंड

मैथ्स व बॉयोलॉजी से कर सकते हैं इंटर

सीबीएसई व झारखंड बोर्ड में कोई भी छात्र मैथ्स, बायोलॉजी, कॉमर्स, आर्ट से इंटर कर सकता है, वैसे ही मैथ्स व बायोलॉजी दोनों से इंटर कर सकता है। इस प्रक्रिया में छात्र को एक विषय मेन तथा दूसरा विषय एडिशनल लेना होता है, लेकिन उसे दोनों ही विषयों में मान्य किया जाता है।

आयुष कोर्स की जानकारी नहीं है

 सीबीएसई द्वारा अपनी वेबसाइट पर बीएएमएस, बीएचएमएस, यूनानी व नेचरोपैथी कोर्स के सिलेबस सहित कोई जानकारी नहीं दी है।  डॉ. सुमंत मिश्रा, निदेशक, स्वास्थ्य सेवाएं झारखंड।

ऑल इंडिया मेडिकल टेस्ट है नीट

नीट का आयोजन मेडिकल और डेंटल कॉलेज में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में प्रवेश के लिए किया जाता है। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त कॉलेजों में प्रवेश परीक्षा के आधार पर एडमिशन दिया जाता है।

अचानक कर दिया बदलाव

 सीबीएसई ने अचानक नीट के विज्ञापन में बदलाव कर दिया है। हम इस मामले में सीबीएसई सहित झारखंड के अफसरों को शिकायत कर रहे हैं।  नितिन मोहन पिलगर, नीट से बाहर हुए स्टूडेंट व शिकायतकर्ता

2 साल से हो रही है नीट आयोजित

पहले यह परीक्षा सीबीएसई द्वारा संचालित होती थी, लेकिन वर्ष 2016 की परीक्षाओं के लिए केंद्र सरकार ने नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस एक्जाम आयोजित कराने का फैसला किया।

झारखंड में आयुष कॉलेज

आयुर्वेद 06

होम्योपैथी 04

यूनानी 00

नैचरोपैथी 02

देश में आयुष कॉलेज

आयुर्वेद 445

होम्योपैथी 204

यूनानी 52

नैचरोपैथी 09

2018-19 में नीट से प्रवेश

2018-19 में प्रवेश नीट से होंगे तथा प्रवेश परीक्षा सीबीएसई लेगा। यह आदेश भारत सरकार के अपर सचिव आरके खत्री ने जारी किए हैं, लेकिन सीबीएसई ने यह जानकारी वेबसाइट पर नहीं दी है।

यह है विज्ञापन

सीबीएसई ने नीट के लिए आवेदन पत्र जारी कर दिया है। इसकी परीक्षा पिछले वर्षों के भांति ही इस वर्ष भी मई माह के पहले रविवार यानी छह मई को आयोजित की जाना है और जून में परीक्षा परिणाम घोषित किया जाना है।

X
नीट परीक्षा के सब्जेक्ट को लेकर गफलत में छात्र
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..