• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • आंधी-बािरश में सड़क पर उतरीं महिलाएं कैंडल मार्च, आज भारत बंद का आह्वान
--Advertisement--

आंधी-बािरश में सड़क पर उतरीं महिलाएं कैंडल मार्च, आज भारत बंद का आह्वान

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उत्पीड़न अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा किए गए बदलाव के विरोध में विभिन्न...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:00 AM IST
आंधी-बािरश में सड़क पर उतरीं महिलाएं कैंडल मार्च, आज भारत बंद का आह्वान
अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उत्पीड़न अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा किए गए बदलाव के विरोध में विभिन्न दलित समुदाय के लोगों ने रविवार को साकची में कैंडल मार्च निकाला। इसमें दुसाध, रविदास, मुखी, रजक, करुआ, पासी सहित अन्य दलित समुदाय के लोग शामिल हुए। दुसाध समाज जमशेदपुर अध्यक्ष जयचंद पासवान बताया अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति उत्पीड़न अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा जो बदलाव किया गया है, इससे समाज के लोगों का हित छीनने की कोशिश है। विरोध में दो अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया गया है। इसके पूर्व संध्या पर कैंडल मार्च निकाला गया है। उन्होंने कहा समुदाय में इसका आक्रोश देखा जा सकता है।

बारिश के बीच सड़क पर प्रदर्शन करतीं महिलाएं।

सिटी रिपोर्टर | जमशेदपुर

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उत्पीड़न अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा किए गए बदलाव के विरोध में विभिन्न दलित समुदाय के लोगों ने रविवार को साकची में कैंडल मार्च निकाला। इसमें दुसाध, रविदास, मुखी, रजक, करुआ, पासी सहित अन्य दलित समुदाय के लोग शामिल हुए। दुसाध समाज जमशेदपुर अध्यक्ष जयचंद पासवान बताया अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति उत्पीड़न अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा जो बदलाव किया गया है, इससे समाज के लोगों का हित छीनने की कोशिश है। विरोध में दो अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया गया है। इसके पूर्व संध्या पर कैंडल मार्च निकाला गया है। उन्होंने कहा समुदाय में इसका आक्रोश देखा जा सकता है।

संगठनों का समर्थन : सोमवार को भारत बंद का ऐलान विभिन्न संगठनों ने किया है। इस बंद का संगठन डॉ भीम राव अंबेडकर विचार मंच और रविदास समाज, पूर्वी सिंहभूम ने समर्थन का ऐलान किया है।

X
आंधी-बािरश में सड़क पर उतरीं महिलाएं कैंडल मार्च, आज भारत बंद का आह्वान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..