• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • बेल्डीह चर्च स्कूल में टिक नहीं पाते प्रिंसिपल, 15 साल में 7 प्राचार्य बदल गए
--Advertisement--

बेल्डीह चर्च स्कूल में टिक नहीं पाते प्रिंसिपल, 15 साल में 7 प्राचार्य बदल गए

बेल्डीह चर्च स्कूल में पिछले 15 साल में सात प्रिंसिपल बदल चुके हैं। नुकसान विद्यार्थियों को हुआ। आने वाला नया...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:35 PM IST
बेल्डीह चर्च स्कूल में टिक नहीं पाते प्रिंसिपल, 15 साल में 7 प्राचार्य बदल गए
बेल्डीह चर्च स्कूल में पिछले 15 साल में सात प्रिंसिपल बदल चुके हैं। नुकसान विद्यार्थियों को हुआ। आने वाला नया प्रिंसिपल अभी स्कूल प्रशासन को ठीक से समझ नहीं पाता कि उन्हें छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ता है। मिसेज डेविड के बाद एक भी प्रिंसिपल यहां टिक नहीं पाया। स्कूल प्रबंधन ने कोलकाता से लेकर नागालैंड तक से प्रिंसिपल को लाया।

सूत्रों का कहना है कि स्कूल के रूटीन काम में प्रबंधन के हस्तक्षेप की वजह से कोई लंबे समय तक टिक नहीं पाता। कोलकाता की सुहाना बिश्वास ने पिछले साल दिसंबर में प्रिंसिपल का पदभार संभाला था। लेकिन साल भर के अंदर ही स्कूल को छोड़ दिया। पूछे जाने पर कहा-निजी वजह से स्कूल को छोड़ रही हूं। बाहर के प्रिंसिपल के लिए काम करना मुश्किल होता है। ऐसे में मेरा मानना है कि स्कूल प्रबंधन को बाहर से प्रिंसिपल लाने की जगह जमशेदपुर से ही प्रिंसिपल रखना चाहिए, क्योंकि वे यहां के माहौल को जानते और समझते हैं।

कोलकाता से नागालैंड तक के प्रिंसिपल को लाए पर टिक न सके

स्कूल प्रबंधन कमेटी के सेक्रेटरी एके सोमैया ने कहा कि हमारे लिए मुश्किल यह है कि हमें इसाई समुदाय के ही प्रिंसिपल को रखना होता है। इसाई स्कूल है। ऐसे में इसाई समुदाय में प्रिंसिपल पद के लिए उचित उम्मीदवार मिलना मुश्किल होता है। यही कारण है कि हमें बाहर से प्रिंसिपल को लाना पड़ता है। प्रिंसिपल के स्कूल में नहीं टिकने और अनावश्यक हस्तक्षेप के बारे में सेक्रेटरी ने कहा कि यह इत्तफाक है कि प्रिंसिपल नहीं टिक पाते। इसकी वजह प्रबंधन का हस्तक्षेप नहीं है। किसी को बेहतर मौका मिलता है तो वह चला जाता है। निजी वजह हो सकती है। निश्चित रूप से प्रबंधन के सामने एक स्थायी प्रिंसिपल की चुनौती है। प्रबंधन इसे लेकर काफी संजीदा है और इस पर काम कर रहा है। उम्मीद है कि नये सत्र में प्रिंसिपल की नियुक्ति हो जाएगी।

मिसेज डेविड के रिटायरमेंट के बाद आने-जाने का सिलसिला जारी रहा

साल दो हजार में मिसेज डेविड के रिटायरमेंट के बाद बेल्डीह चर्च स्कूल को एक भी स्थायी प्रिंसिपल नहीं मिल पाया। कोई छह माह तो कोई दो साल टिक पाया। मिसेज डेविड के बाद वी. इस्माइल को प्रभारी प्रिंसिपल बनाया गया। इसके बाद मि. टोपनो आए, जो साल भर में ही चले गए। जैसन अब्राहम, गीता पॉल, आरके बेहरा और मिसेज पीटरसन भी लंबे समय तक टिक नहीं पाए। सुहाना बिश्वास कहती हैं- अब पहले वाली स्थिति नहीं रही। प्रिंसिपल के लिए चुनौती काफी हो गई है। हरियाणा की घटना ने सोचने के लिए मजबूर कर दिया है।

X
बेल्डीह चर्च स्कूल में टिक नहीं पाते प्रिंसिपल, 15 साल में 7 प्राचार्य बदल गए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..