जमशेदपुर

  • Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • मां को क्वार्टर में बंदकर फ्लैट में पत्नी-बच्चों संग रहता था टाटा मोटर्स कर्मी, सुबह मां की लाश मि
--Advertisement--

मां को क्वार्टर में बंदकर फ्लैट में पत्नी-बच्चों संग रहता था टाटा मोटर्स कर्मी, सुबह मां की लाश मिली

टेल्को कॉलोनी के रोड नंबर 15 स्थित क्वार्टर नंबर के2-10 में बुधवार सुबह 80 वर्षीय मीरा चटर्जी की लाश मिली। मीरा चटर्जी...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:40 PM IST
टेल्को कॉलोनी के रोड नंबर 15 स्थित क्वार्टर नंबर के2-10 में बुधवार सुबह 80 वर्षीय मीरा चटर्जी की लाश मिली। मीरा चटर्जी की मौत का पता तब चला, जब उनका बेटा टाटा मोटर्स कर्मी स्वरूप चटर्जी ने क्वार्टर का ताला खोला। अंदर जाने पर उन्होंने मां (मीरा) को बिस्तर पर मृत पाया। स्वरूप चटर्जी प|ी व बच्चों के साथ घोड़ाबांधा स्थित अपना आंगन अपार्टमेंट में रहते हैं।

स्थानीय लोगों के अनुसार, मीरा चटर्जी अक्सर क्वार्टर में अकेली रहती थीं। स्वरूप अपनी प|ी व बेटों के साथ फ्लैट में अलग रहते हैं। बीच-बीच में वे क्वार्टर आते थे और मीरा चटर्जी को खाना देने के बाद चले जाते थे।

मीरा चटर्जी

टेल्को कॉलोनी के रोड नंबर 15 के क्वार्टर में इसी बिस्तर पर मृत पाई गई थी मीरा चटर्जी।

मंगलवार रात 8 बजे तक सब ठीक था, सुबह आया तो लाश मिली : स्वरुप

स्वरूप चटर्जी ने बताया- वे मंगलवार रात करीब 8 बजे प|ी व बेटे के साथ क्वार्टर से फ्लैट के लिए निकले थे। तब तक सब ठीक था। बुधवार सुबह जब वे क्वार्टर पहुंचे तो गेट बंद था। उन्होंने मां को आवाज लगाई, लेकिन काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला। क्वार्टर की एक चाबी उनके पास भी थी। उस चाबी से ताला खोलकर वे क्वार्टर के अंदर गए तो मां को बिस्तर पर मृत पाया। इसी दौरान किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को टाटा मोटर्स हॉस्पिटल के शीतगृह में रखवाया है। बकौल स्वरूप, वे तीन भाई हैं। भाई ज्ञानेंद्र चटर्जी बांकुड़ा (पश्चिम बंगाल) और रामानंद चटर्जी नागपुर में रहते हैं। गुरुवार को दोनों के शहर पहुंचने पर मां का अंतिम संस्कार होगा।

X
Click to listen..