• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • कर्मचारियों को हवाई यात्रा कराने की सूचना नहीं देने पर वर्मा, तिवारी व सिंह को चार्जशीट
--Advertisement--

कर्मचारियों को हवाई यात्रा कराने की सूचना नहीं देने पर वर्मा, तिवारी व सिंह को चार्जशीट

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद सिंटर प्लांट के कर्मचारियों को पुणे की हवाई यात्रा कराने पर निर्वाची...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:40 PM IST
कर्मचारियों को हवाई यात्रा कराने की सूचना नहीं देने पर वर्मा, तिवारी व सिंह को चार्जशीट
आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद सिंटर प्लांट के कर्मचारियों को पुणे की हवाई यात्रा कराने पर निर्वाची पदाधिकारी एसके सिंह ने टाटा वर्कर्स यूनियन के उपाध्यक्ष शिवेश वर्मा के साथ कमेटी मेंबर मनोरंजन तिवारी एवं अमोलक सिंह को चार्जशीट दिया है। चार्जशीट में आरोप लगाया गया कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद कर्मचारियों को हवाई यात्रा कराने में उन लोगों की भी भूमिका रही है। प्रबंधन ने कर्मचारियों को टूर पर भेजा तो वहां के कमेटी मेंबर होने के नाते उन लोगों को चुनाव संचालन समिति को इसकी सूचना देनी चाहिए थी। आदर्श आचार संहिता तोड़े जाने पर 24 घंटे के भीतर जवाब दीजिए अन्यथा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

सिंटर प्लांट के एसपी थ्री ऑपरेशन सेक्शन से कर्मचारियों को पुणे में टूर के लिए भेजा गया है। धूल कण पर नियंत्रण के लिए सेक्शन में विशेष उपकरण मंगाया गया है। शिवेश वर्मा यहीं से कर्मचारी हैं और कमेटी मेंबर भी। इसी सेक्शन में मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल के कर्मचारी भी काम करते हैं। सिंटर प्लांट में कई सेक्शन को मिला कर मैकेनिकल के कर्मचारियों का निर्वाचन क्षेत्र बनाया गया है जिसके कमेटी मेंबर अमोलक सिंह है। इसी तरह कई सेक्शन में कार्यरत इलेक्ट्रिकल के कर्मचारियों को मिला कर जो निर्वाचन क्षेत्र बना है, उसका प्रतिनिधित्व मनोरंजन तिवारी करते हैं। किसी नए उपकरण को चलाने का प्रशिक्षण लेने के लिए ऑपरेशन के कर्मचारी जाएंगे तो उनके साथ मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल के कर्मचारी की यात्रा अनिवार्य है। इस नाते मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल के दो दो कर्मचारी पुणे गए हैं जबकि शिवेश वर्मा के निर्वाचन क्षेत्र से ऑपरेशन के दस कर्मचारियों को चुनाव के दौरान टूर करने का मौका मिला है। निर्वाची पदाधिकारी एसके सिंह को शिकायत मिली कि शिवेश वर्मा के हस्तक्षेप से तीन चरण में टूर पर जाने के लिए कर्मचारियों की सूची बनाई गई। कर्मचारियों को टूर मिलने के बाद निर्वाचन क्षेत्र में शिवेश वर्मा की स्थिति मजबूत हुई है। इन्हीं वजहों से निर्वाची पदाधिकारी ने चार्जशीट में कमेटी मेंबरों से पूछा कि चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद कर्मचारियों को चुन-चुनकर इंडस्ट्रीयल टूर पर क्यों भेजा गया? प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से अगर इसकी जानकारी आपको थी, तो चुनाव संचालन समिति को इसकी जानकारी क्यों नहीं दी गई? निर्वाची पदाधिकारी ने आदर्श आचार संहिता की धारा एक व छह का दोषी पाते हुए लिखित जवाब मांगा है।

शिवेश पर प्रबंधन की मेहरबानी की दिन भर होती रही चर्चा

चुनाव के दौरान टाटा स्टील के कारखाना के भीतर कर्मचारियों के शिफ्ट बदलने पर रोक लगी हुई है। निर्वाची पदाधिकारी एसके सिंह के सेक्शन में शिफ्ट बदला गया तो आपत्ति करने पर रोक दिया गया ताकि चुनाव प्रभावित नहीं हो। प्रबंधन ने खुद इस पर रोक लगाई हुई है। मगर इसी बीच शिवेश वर्मा के सेक्शन से दस कर्मचारियों को टूर पर भेजा गया। टाटा वर्कर्स यूनियन के कार्यालय में बुधवार को दिन भर शिवेश वर्मा पर प्रबंधन की मेहरबानी की चर्चा होती रही। आफिस बेयरर्स से लेकर कमेटी मेंबर तक चर्चा करते रहे कि चुनाव के ठीक पहले टूर मिलने से निर्वाचन क्षेत्र में शिवेश वर्मा मजबूत हुए हैं। कमेटी मेंबरों का कहना था कि अगर मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल के कुछेक कर्मचारियों को नहीं लिया जाता तो यह टूर नहीं हो पाता। इसलिए उन लोगों को भी शामिल किया गया। बताना जरूरी होगा कि शिवेश वर्मा फिलहाल विरोधी खेमा में है। वे आर रवि प्रसाद और उनके साथियों के साथ मिल कर चुनाव नहीं लड़ रहे हैं।

शिवेश वर्मा

X
कर्मचारियों को हवाई यात्रा कराने की सूचना नहीं देने पर वर्मा, तिवारी व सिंह को चार्जशीट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..