Hindi News »Jharkhand News »Jamshedpur »Jamshedpur» असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन

असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:45 PM IST

डीबी स्टार
डीबी स्टार जमशेदपुर/रांची

झारखंड में जमीन का रिकार्ड ऑनलाइन होने के बाद भी फर्जीवाड़ा हो रहा है। ऐसा ही मामला टाटीसिल्वे में सामने आया है। नामकुम अंचल के तहत आने वाले महुअप ठीपा के खाता नं.-238, प्लाॅट नं.-1094, रकबा साढ़े पैंतालीस डिसमिल जमीन रामगढ़ निवासी विपिन कुमार की है। लेकिन कुछ दलालों ने कर्मियों-अधिकारी से मिलकर विपिन की जानकारी के बिना ही जमीन बेच दी। इसके लिए विपिन का वर्तमान पता तुलीन, थाना- झालदा, जिला-पुरुलिया (पश्चिम बंगाल) दिखाकर फर्जी तरीके से पावर ऑफ एटार्नी बनाई और जमीन बेचकर रजिस्ट्री भी करा दी। फर्जीवाड़े की जानकारी विपिन को तब मिली, जब सामने वाली पार्टी ने जमीन के म्यूटेशन लिए नामकुम अंचल कार्यालय में आवेदन किया। विपिन ने टाटीसिल्वे थाना में 28.11.2017 को इसकी शिकायत दर्ज कराई। इसमें विपिन ने कहा कि वे कभी तुलीन (झालदा) गए ही नहीं। इसके बाद भी रांची के धुर्वा निवासी मुकेश कुमार ने 15.3.2017 को जिला अवर निबंधक पुरुलिया में उनके नाम के फर्जी व्यक्ति को खड़ा करके पावर ऑफ एटार्नी ले लिया। इसी के सहारे जमीन बिक्री का खेल हुआ है। सीओ की रिपोर्ट से स्पष्ट हो गया कि फर्जी मालिक खड़ा करके पावर ऑफ एटार्नी ली गई जमीन बिक्री का खेल हो गया।

राज्य में जमीन का रिकार्ड ऑनलाइन होने के बाद भी फर्जीवाड़ा

टाटीसिल्वे थाना में हुई शिकायत, नामकुम सीओ की रिपोर्ट में असली मालिक विपिन ही हैं

1. शिकायत : विपिन कुमार को जब फर्जीवाड़े का पता चला तो उन्होंने टाटीसिल्वे थाने में ये कंप्लेन दर्ज की।

2. थाने ने मांगी जानकारी : विपिन की शिकायत पर टाटीसिल्वे थाना ने सीआे से जमीन की डिटेल मांगी।

3. ये रही सीओ की रिपोर्ट : इसमें नामकुम के सीओ ने स्पष्ट किया कि जमीन का असली मालिक विपिन है।

citizen journalism

नाली का पानी सड़क पर फैल सकता है संक्रमण

आज के सिटीजन जर्नलिस्ट

एके सिंह

ये सामाजिक कार्यकर्ता हैं। डिमना हिल व्यू कॉलोनी में नाली नहीं होने के कारण इनके साथ दूसरे लोगों को भी परेशानी होती है।

डीबी स्टार जमशेदपुर

हिल व्यू कॉलोनी डिमना में सीवरेज सिस्टम ध्वस्त है। घरों का गंदा पानी खाली प्लॉट पर जमा होता है। स्थानीय निवासी तकरीबन एक साल से नाली बनाने के लिए मानगो अक्षेस कार्यालय में आवेदन दे रहे हैं, लेकिन अब तक नाली का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। कार्यालय में तैनात अधिकारी नाली बनाने के नाम पर हर बार सर्वे कराने का आश्वासन देते हैं। स्थानीय निवासी डॉ. बीके गोप ने कहा कि जिम्मेदारों को हमलोगों की परेशानी से कोई सरोकार नहीं है। गंदगी के कारण मच्छरों को प्रकोप बढ़ गया है। मलेरिया जैसी संक्रामक बीमारी की चपेट में आ रहे हैं।

आप भी बतौर सिटीजन जर्नलिस्ट डीबी स्टार से जुड़ सकते हैं। इसके लिए वॉट्सएप पर Citizen Journalist jamshedpur 8083757257 पर खबरें भेज सकते हैं। अपनी शिकायतें और सुझाव इस नंबर पर भेजें 7870315606पर तस्वीर व जानकारी अपने मोबाइल नंबर के साथ भेज सकते हैं।

हिल व्यू कॉलोनी डिमना

मुझे जानकारी नहीं है

मुझे नाली के बारे में जानकारी नहीं है। अगर लोगों को परेशानी हो रही है तो वे कार्यालय में आकर आवेदन जमा करें, इसके बाद नाली का निर्माण शुरू कराया जाएगा।  एस रहमान, सिटी मैनेजर, मानगो अक्षेस

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jamshedpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Jamshedpur

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×