Hindi News »Jharkhand »Jamshedpur »Jamshedpur» ढाई लाख के सॉफ्टवेयर 55 लाख में, 8.98 लाख की कम्प्यूटर सामग्री 60.90 लाख में खरीदी

ढाई लाख के सॉफ्टवेयर 55 लाख में, 8.98 लाख की कम्प्यूटर सामग्री 60.90 लाख में खरीदी

एमजीएम अस्पताल में कम्प्यूटर लगाने और कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने के नाम पर 2 करोड़ 7 लाख रुपए के ठेके में बड़ा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:45 PM IST

एमजीएम अस्पताल में कम्प्यूटर लगाने और कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने के नाम पर 2 करोड़ 7 लाख रुपए के ठेके में बड़ा घोटाला उजागर हुआ है। जिला प्रशासन की जांच रिपोर्ट (दैनिक भास्कर के पास मौजूद) के मुताबिक ढाई लाख के साफ्टवेयर 55 लाख में खरीदे। करीब 8.98 लाख की कम्प्यूटर सामग्री 60.90 लाख में खरीदी गई। कर्मचारियों को ट्रेनिंग दिए बगैर 88.80 लाख का भुगतान कर दिया गया। यह घोटाला हुआ तत्कालीन प्राचार्य डॉ. एएन मिश्रा और ठेका कंपनी ओसियन इंटरप्राइजेज की मिलीभगत से। डीसी के आदेश पर ओसियन के मालिक संजय कुमार पर केस दर्ज कर लिया गया है। कंपनी को ब्लैक लिस्टेड करने के साथ डीसी ने झारखंड के सभी उपायुक्त को पत्र लिखकर ओसियन इंटरप्राइजेज को किसी निविदा में शामिल नहीं किया जाए। शेष पेज-12

एमजीएम अस्पताल में ‌Rs.2.07 करोड़ का घोटाला

ये हैं घोटाले के किरदार

डॉ. एएन मिश्रा

घोटाला के समय एमजीएम अस्पताल के प्राचार्य थे।

हर सामान की खरीदारी में हुए धांधली

गड़बड़ी 1 : 26 फरवरी 2015 को ई निविदा का प्रकाशन हुआ। दो करोड़ सात लाख 56 हजार 886 के इस ठेके में देवा साइंटिफिक, ओसिएन इंटरप्राइजेज और सिद्धि विनायक ने भाग लिया। आईएसआई सर्टिफिकेट और 5 अस्पतालाें या संस्थानों में कार्य अनुभव का दस्तावेज जमा नहीं करने के कारण निविदा रद्द कर दी गई। 5 सरकारी अस्पतालों में कार्य के अनुभव का ठोस दस्तावेज ओसियन इंटरप्राइजेज ने भी नहीं दिया था लेकिन उसे मौका मिला।

गड़बड़ी 2 : ओसिएन इंटरप्राइजेज ने टेंडर में न बैंक गारंटी दी और न 50 हजार रुपए अर्नेस्ट मनी जमा किया। इसके बावजूद अस्पताल प्रबंधन ने ठेका दिया। जांच में टीम को यह गड़बड़ी मिली थी।

संजय कुमार

ठेका कंपनी ओसियन इंटरप्राइजेज के मालिक हैं।

बाजार भाव से कई गुना ज्यादा में खरीदी

मद संख्या कंपनी रेट बाजार दर

1. एप्लीकेशन सर्वर 01 269500 80000

2. डाटाबेस सर्वर 01 269500 80000

3. डेस्कटॉप पीसी-13 01 78000 44000

4. वाईफाई जोन नेटवर्क 01 2500000 --

5. एसएमएस सर्विस पैक 01 350000 100000

6. लेजर प्रिंटर 22 1023000 264000

7. मैनेज्ड स्विच 03 87000 54000

8. कम्युनिकेशन रैक 03 47556 13500

9. कैट केबुल 150m 12750 3000

10. आरजे-45 200 160000 4600

11. पैच पैनल 06 46200 18000

12. एक्सेस प्वाइंट 30 417000 90000

13. ऑनलाइन यूपीएस 01 89580 30000

14. मोबाइल कंपेनियन 40 740000 117600

कुल 6090089 898700

(रेट रुपए में, स्रोत : जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी की रिपोर्ट से)

संजय कुमार के ओसियन इंटरप्राइजेज के गोलमाल की स्वयं उपायुक्त ने जांच कराई है। यह गंभीर मसला है। प्राथमिकी दर्ज हो चुकी है। हम पुलिस को हर मुमकिन सहयोग करेंगे। संजय कुमार और उनकी फर्म से संबंधित जो भी दस्तावेज मांगे जाएंगे, उपलब्ध कराया जाएगा। - डाॅ. अमिताभ चंद्र अखौरी, प्राचार्य, एमजीएम मेडिकल कॉलेज

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jamshedpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ढाई लाख के सॉफ्टवेयर 55 लाख में, 8.98 लाख की कम्प्यूटर सामग्री 60.90 लाख में खरीदी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jamshedpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×