--Advertisement--

डॉक्टरों की चूक से हुई मौत का पता लगाने के लिए मेडिकल बोर्ड की देखरेख में पोस्टमार्टम

एमजीएम अस्पताल में हाइड्रोसिल के ऑपरेशन के बाद हुई मौत का मामला मानगो रोड जाम करने की चेतावनी के बाद डीसी ने गठित किया

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2017, 08:29 AM IST
Death due to doctor death

जमशेदपुर। एमजीएम अस्पताल में न्यू उलीडीह, मानगो निवासी सुखदेव राम की मौत मामले में शुक्रवार को प्रशासन को दखल देना। अस्पताल के डॉक्टर पर लगे लापरवाही के आरोप को देखते हुए डीसी अमित कुमार ने मेडिकल बोर्ड का गठन कर पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया। देर शाम पोस्टमार्टम हाउस खोला गया और बोर्ड की मौजूदगी में पीएम की प्रक्रिया पूरी की गई। हाइड्रोसिल के ऑपरेशन के पांच दिन बाद गुरुवार को सुखदेव की मौत हुई।

- परिजन के अनुसार, चिकित्सकों की लापरवाही के कारण इन्फेक्शन हो गया था। मामले पर परिजनों उलीडीह बस्तीवासियों ने जमकर हंगामा किया। शुक्रवार को भी दिनभर गहमागहमी रही। डॉक्टरों पर कार्रवाई की मांग को लेकर परिजनों ने मानगो मुख्य सड़क को जाम करने की चेतावनी दी थी।

- भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने डीसी से मिलकर सुखदेव राम की मौत के जिम्मेदारों पर कार्रवाई और मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की। एमजीएम कॉलेज स्थित पोस्टमार्टम हाउस शाम पांच बजे बंद हो जाता है।

- डीसी के आदेश पर शाम साढ़े पांच बजे पोस्टमार्टम हाउस खोला गया। तीन डाॅक्टरों की टीम बनाई गई। मजिस्ट्रेट के तौर पर डिप्टी कलेक्टर प्रतिनियुक्त किए गए। हड़ताल के चलते मजिस्ट्रेट देरी से आए। शाम करीब सात बजे वीडियो रिकार्डिंग के साथ पोस्टमार्टम किया गया।

बेटी ने साकची थाने में दी लिखित शिकायत
सुखदेव की बेटी उर्मिला ने डाॅ. एमके सिन्हा टीम के खिलाफ प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया। साकची थानेदार मदन मोहन शर्मा ने बताया- जांच की जा रही है। इधर, भाजपा नेता विकास सिंह ने कहा दोषी डाॅक्टरों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो पीड़ित परिवार के साथ डीसी कार्यालय के समक्ष अनशन किया जाएगा।

X
Death due to doctor death
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..