आजसू के दल को मॉब लिंचिंग स्थल पर जाने नहीं दिया

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जमशेदपुर| आजसू का एक प्रतिनिधिमंडल शनिवार को सरायकेला-खरसावां में हुई मॉब लिंचिंग की घटना की जांच के लिए पहुंची। आजसू के दल का नेतृत्व पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व डीआईजी सुबोध प्रसाद कर रहे थे। घटना की जांच करने के बाद दल जमशेदपुर के सर्किट हाउस पहुंचा। यहां सुबोध प्रसाद ने बताया कि तबरेज अंसारी के मॉब लिंचिंग मामले की जांच करने के लिए वे पीड़ित परिवार से मिले और उनसे जानकारी हासिल की। उसके बाद घटनास्थल धातकीडीह गांव पहुंचे। वहां गांव वालों से घटना के संबंध में जानकारी लेनी थी। लेकिन वहां कुछ हिंदू संगठनों के लोगों ने दल का विरोध किया हंगामा किया। इसके बाद दल वापस आ गया। यह बहुत गंभीर बात है कि हिंदूवादी संगठन के लोग नाजायज तौर पर हंगामा खड़ा कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...