--Advertisement--

जमशेदपुर: 500 की ट्रे में एजेंसी ने गलती से 2000 रु. के नोट डाले, एटीएम से 25 लाख रुपए ज्यादा निकले

कर्मचारियों ने नोट का अंतर होने पर 500 की ट्रे को 2000 के नोट के साइज पर एडजस्ट कर दिया था

Danik Bhaskar | Sep 07, 2018, 10:19 AM IST

जमशेदपुर. बारीडीह बाजार में एचडीएफसी बैंक की एटीएम ने 12 घंटे तक नोट उगले। एक हजार के बदले चार हजार और पांच हजार के बदले चार गुना अधिक यानी 20 हजार रुपए दिए। जिसने 20 हजार रुपए दर्ज किए उसे 80 हजार मिले। 40 लोगों को 8.25 लाख के बदले 33 लाख रुपए मिल गए। 12 घंटे में एटीएम खाली हो गई। बैंक के अफसरों के मुताबिक, जमशेदपुर की एटीएम में पैसा डालने वाली एजेंसी सीएमएस के कर्मचारियों की लापरवाही के कारण यह गड़बड़ी हुई।

एटीएम से लोगों को चार गुना ज्यादा राशि मिली

एजेंसी ने 500 रुपए की ट्रे में 2000 के नोट डाल दिए थे। रुपए निकालने वाले लोगों को रसीद तो सही मिली लेकिन राशि चार गुना अधिक निकली। अब बैंक अौर एजेंसी के कर्मचारी लोगाें का पता कर उनके घर-घर जाकर ज्यादा राशि मांग रहे हैं। मामला 3 सितंबर की रात और 4 सितंबर के बीच का है। लोगों को ज्यादा रुपए मिले तो उन्होंने परिचितों को जानकारी दी। फिर एटीएम में भीड़ लग गई। सूचना मिली तो बैंक अफसरों की टीम ने 6 सितंबर को जांच शुरू की। पता चला कि एजेंसी की गलती से ज्यादा निकासी हो गई। एचडीएफसी बैंक के वीपी राजीव बनर्जी के मुताबिक, एटीएम की ट्रे में गलत नोट डाले जाने से यह स्थिति उत्पन्न हुई। बैंक और सीएमसी के कर्मचारी ट्रांजेक्शन किए गए कार्ड नंबर के आधार पर ग्राहकों का पता कर रहे हैं। बारीडीह और आसपास ग्राहकों के घर जाकर रकम मांग रहे हैं। जिनके पास कम राशि निकली थी वैसे कुछ लोगों ने रुपए लौटा दिए, लेकिन भारी भरकम राशि लेने वाले लोग नहीं दे रहे हैं।


तीन सितंबर को एजेंसी ने एटीएम में डाले थे नोट
जमशेदपुर में एचडीएफसी बैंक के लिए एटीएम में राशि डालने का काम सीएमएस कंपनी करती है। बैंक अधिकारियों के मुताबिक, एजेंसी के कर्मचारियों ने 3 सितंबर को एटीएम में नोट डाले थे, जिस ट्रे में 500 के नोट डालने थे उसमें 2000 डाल दिया। इसलिए यह गड़बड़ी हुई। अधिकारियों ने कहा कई एटीएम की ट्रे में रुपए डालने का अनुरूप बदला जा सकता है। कर्मचारियों ने नोट का अंतर होने पर 500 की ट्रे को 2000 के नोट के साइज पर एडजस्ट कर दिया था।

वीपी एचडीएफसी बोले- गलती एजेंसी ने की, बैंक उसी से वसूली करेगी

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिंडेट राजीव बनर्जी ने कहा कि एटीएम में एजेंसी के कर्मचारियों ने ट्रे को एडजस्ट कर 500 रुपए वाली ट्रे में 2000 के नोट डाल दिए थे। बैंक के साथ सीएमएस का कैश इन ट्रांजिट करार है। ऐसे में बैंक एजेंसी से राशि वसूल करेगी। बैंक की ओर से रिकवरी का प्रयास नहीं हो रहा है। कंपनी अपने स्तर से प्रयास कर रही होगी तो इसकी जानकारी नहीं है।