प्रशासन की अपील, इस बार नदी घाटाें की जगह घर पर ही तालाब बनाकर करें भगवान भास्कर की पूजा

Jamshedpur News - चैती छठ के दाैरान नदी घाटाें पर जुटने वाली भीड़ काे राेकने के लिए जिला प्रशासन ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। इस...

Mar 27, 2020, 07:00 AM IST
Jamshedpur News - appeal to the administration this time worship lord bhaskar by constructing a pond at home instead of river losses

चैती छठ के दाैरान नदी घाटाें पर जुटने वाली भीड़ काे राेकने के लिए जिला प्रशासन ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। इस दाैरान एसडीअाे चंदन कुमार ने लाेगाें से अपील की है कि वे इस बार छठ अपने घराें में ही मनाएं। इसके लिए अस्थायी तालाब बनाकर या टब में पानी भर कर पूजा कर सकते हैं। घराें में भी पूजा के दाैरान श्रद्धालु इस बात का ख्याल रखें कि बेवजह भीड़भाड़ न करें। उन्हाेंने कहा कि पहले भी लाेग अपने घराें में ही छठ पूजा अर्घ्य देते रहे हैं। इस बार भी सभी काे एेसे ही पूजा करने का संकल्प लेना चाहिए। क्याेंकि अगर लाेग पूजा के लिए घाटाें पर अाएंगे ताे भीड़ जुटेगी। इसकी वजह से काेराेना वायरस से जाे लड़ाई शहरवासी लड़ रहे हैं, उसमें बाधा पहुंचेगी। एेसे में अपने व अपने परिवार की सुरक्षा के लिए इस बार व्रत घर पर ही करें। मालूम हाे कि चैती छठ व्रत शहर के सैकड़ाें की संख्या में लाेग करते हैं। एेसे में घाटाें पर हजाराें की भीड़ जुट जाती है। इस दाैरान एक व्यक्ति भी काेराेना वायरस से संक्रमित हुअा ताे वह सैकड़ाें लाेगाें काे संक्रमित कर सकता है। इसलिए प्रशासन लाेगाें काे इस बार घर में ही व्रत करने की सलाह दे रहा है। चार दिवसीय लोक आस्था के महापर्व चैती छठ इस बार 28 मार्च से शुरू हाेगा। 29 मार्च को खरना, 30 मार्च को पहला अर्घ्य और 31 मार्च को दूसरा अर्घ्य देने के साथ चार दिवसीय महापर्व की समाप्ति होगी।

छठ महापर्व का मुहूर्त


{28 मार्च : नहाय-खाय {29 मार्च: खरना शाम 6.20 से रात्रि 8.55 बजे तक {30 मार्च: पहला अर्घ्य शाम 5.25 बजे से {31 मार्च : दूसरा अर्घ्य सुबह 5.12 बजे से


चंदन कुमार, एसडीअाे

29 मार्च को खरना, 30 मार्च को पहला अर्घ्य और 31 मार्च को दूसरा अर्घ्य

X
Jamshedpur News - appeal to the administration this time worship lord bhaskar by constructing a pond at home instead of river losses

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना