जमशेदपुर / बंद घर में सोफा पर महिला का मिला शव, भूख से मौत की अाशंका



Dead body of woman found on sofa in closed house in jamshedpur, expected to die of starvation
X
Dead body of woman found on sofa in closed house in jamshedpur, expected to die of starvation

  • मृतका के बड़े भाई पंकज की पत्नी ने घर में फांसी लगाकर की थी अात्महत्या, पिता की हो चुकी है मौत 
  • साकची और कदमा में ज्वेलरी की थी दुकान, पिता की मौत के बाद बिगड़ती गई आर्थिक स्थिति, दुकान में चार माह से लटके हैं ताले 
  • बबली देवी चार माह से घर में अकेली रह रही थी, उसके दोनों भाई पंकज और दिनेश हत्या के आरोप में जेल में हैं 
  • लोगों को धनतेरस के दिन आखिरी बार घर के बाहर दिखी थी बबली

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2019, 10:48 AM IST

जमशेदपुर. कदमा थाना अंतर्गत भाटिया बस्ती मंदिर पथ स्थित मकान 81 में रहने वाली महिला बबली देवी (35) की सड़ चुकी लाश शुक्रवार की सुबह कदमा पुलिस ने बरामद किया। महिला सोफा पर बैठी अवस्था में मिली। घर अंदर से बंद था। पुलिस के अनुसार महिला की मौत चार-पांच दिनों पूर्व हुई है। क्योंकि लाश में कीड़े लगे थे व लाश से बदबू अा रही थी। मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पुलिस घर का दरवाजा तोड़ घुसी व शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। महिला की मौत भूख से होने की अाशंका जताई जा रही है। क्योंकि जांच में महिला के घर से अनाज का एक भी दाना भी नहीं मिला। घर में माचीस के तीन खाली डब्बे पड़े थे, जिसमें एक तिल्ली भी नहीं थी। 

 

चार महीने से अकेली रह रही थी महिला
पुलिस ने घर से एक फोन व कुछ फोटो बरामद किया है। महिला चार माह से घर में अकेली रह रही थी, उसके दोनों भाई पंकज व दिनेश जेल में है। पिता जगदीश वर्मा न मां का निधन हो चुका है। बबली की दो बहनें हैं। एक की शादी मानगो में तो दूसरी की शादी रांची में हुई है। बबली की शादी भी 12 साल पूर्व रांची में हुई थी। पड़ोसियों के अनुसार शादी के कुछ दिनों बाद ही बबली मायके चली अाई थी। तब से यही रह रही थी। पड़ोसी राजेश ने कहा- शुक्रवार की सुबह बबली के घर से काफी बदबू अा रही थी। फिर पुलिस को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने पर पता चला की बबली देवी की मौत हो चुकी है। बदबू इतनी ज्यादा थी कि आसपास गुजरने वाले लोग मुंह में रूमाल लेकर चलते थे।

 

महिला के पिता की मौत के बाद बिगड़ी घर की स्थिति
मृतका बबली के बड़े भाई पंकज की पत्नी ने घर में फांसी लगा अात्महत्या की थी। पत्नी के मायके वालों ने पंकज व उसके भाई दिनेश पर हत्या का अारोप लगाते हुए केस किया था, जिसके बाद पंकज को चार साल पूर्व जेल भेज दिया। इसी मामले के छोटे भाई दिनेश को चार माह पूर्व जेल भेजा गया। पड़ोसियों ने बताया कि इनके पिता जगदीश जब जीवित थे तो परिवार बेहद संपन्नता से रहता था। इनकी साकची व कदमा बाजार में ज्वेलरी की दुकाने थीं। जहां पिता और इनके दो भाई व्यापार संभालते थे। पिता की मृत्यु के बाद परिवार की स्थिति बिगड़ती चली गई। वर्तमान में इनकी दोनों दुकानें बंद पड़ी है। बबली को अंतिम बार धनतेरस के दिन देखा था। पड़ोसियों ने कहा- वो घर धो रही थी। इसके बाद से वो नहीं दिखी। पड़ोस की महिला कमला देवी ने कहा- बबली का व्यवहार सामान्य नहीं था, वो पड़ोसियों ने बात नहीं करती थी। 

 

महिला का चार साल पूर्व हो चुका है तलाक 
कदमा थाना प्रभारी विनय कुमार ने कहा कि एसडीओ के अादेश पर मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में दरवाजा तोड़ महिला के शव को निकाला गया। महिला का चार साल पूर्व तलाक हो चुका है। वो घर पर अकेली रहती थी। घर से खाने पीने का सामान भी नहीं मिला। अाशंका जताई जा रही है कि महिला की मौत चार-पांच दिन पूर्व हुई होगी। मौत का कारण का पता भी नहीं चल पाया है। रिपोर्ट के बाद कुछ कहा जा सकेगा।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना