शहर में एहतेराम के साथ मना ईद मिलादुन्नबी, शांति और भाईचारे का पैगाम देने के लिए निकाला जुलूस

Jamshedpur News - शहर में पूरी अकीदत और एहतेराम के साथ ईद मिलादुन्नबी मनाया गया। इस मौके पर हर तरफ खुशी दिखी। लाेगाें ने एक-दूसरे काे...

Nov 11, 2019, 06:51 AM IST
शहर में पूरी अकीदत और एहतेराम के साथ ईद मिलादुन्नबी मनाया गया। इस मौके पर हर तरफ खुशी दिखी। लाेगाें ने एक-दूसरे काे बधाई दी। मौके पर तंजीम अहले सुन्नत जमात की ओर से निकलने वाला जुलूस-ए-मोहम्मदी नहीं निकला, लेकिन छाेटे-छाेटे गुटाें में बंट कर युवाअाें ने अलग-अलग क्षेत्राें में जुलूस निकाला।

जमशेदपुर के धातकीडीह में सुबह में लोगों ने जुलूस निकाला। जुलूस धातकीडीह के विभिन्न इलाकों में घूमा और सेंटर मैदान में एक मेला भी लगा। मानगो के ओल्ड पुरुलिया रोड और न्यू पुरुलिया रोड में युवकों ने टोलियां बनाकर जुलूस निकाला और ईद मिलादुन्नबी की शान में नारे लगाए। वहीं, जुगसलाई में भी मिलादुन्नबी का जश्न मनाया गया। इसमें हर उम्र के लाेग शामिल हुए। ईद मिलादुन्नबी काे लेकर शहर की मस्जिदों, मदरसों और मुहल्लों में नबी की शान में लिखे बैनर लगाए गए और सजावट की गई थी। धातकीडीह सेंटर मैदान में उलेमा-ए-कराम की तकरीर, सलात सलाम और सामूहिक दुआ हुई। इसमें बड़ी संख्या में लाेग शामिल हुए। ईद मिलादुन्नबी के मौके पर मानगो आजादनगर स्थित मदरसा दारूस सलाम में जश्न-ए-ईद समारोह का आयोजन किया गया। नमाज फजर (सुबह की नमाज) के बाद कुरानख्वानी, नातख्वानी, मिलाद व फातिहाख्वानी हुई। समारोह के दौरान हाफिज जलालुद्दीन ने नबी (स.अ) की जीवनी पर रोशनी डालें। उन्होंने कहा कि अल्लाह ने नबी (स.अ) को समस्त संसार के लिए रहमत बनाकर भेजा, ताकि बुराइयों को समाप्त किया जा सके। उन्होंने अपनी उम्मत को सब्र का संदेश दिया। हमें उन पर अधिकाधिक दरूद व सलाम भेजना चाहिए। मौके पर मौलाना हामिद रजा, अधिवक्ता कैसर शकील, मो. हुसैन, अब्दुल गनी, गालिब असलम, इरफान अहमद सहित बड़ी संख्या में मदरसा के छात्र मौजूद थे।

अल्लाह ने नबी को समस्त संसार के लिए रहमत बनाकर भेजा: हाफिज जलालुद्दीन

मानगो में शामिल बच्ची।

सिटी रिपाेर्टर | जमशेदपुर

शहर में पूरी अकीदत और एहतेराम के साथ ईद मिलादुन्नबी मनाया गया। इस मौके पर हर तरफ खुशी दिखी। लाेगाें ने एक-दूसरे काे बधाई दी। मौके पर तंजीम अहले सुन्नत जमात की ओर से निकलने वाला जुलूस-ए-मोहम्मदी नहीं निकला, लेकिन छाेटे-छाेटे गुटाें में बंट कर युवाअाें ने अलग-अलग क्षेत्राें में जुलूस निकाला।

जमशेदपुर के धातकीडीह में सुबह में लोगों ने जुलूस निकाला। जुलूस धातकीडीह के विभिन्न इलाकों में घूमा और सेंटर मैदान में एक मेला भी लगा। मानगो के ओल्ड पुरुलिया रोड और न्यू पुरुलिया रोड में युवकों ने टोलियां बनाकर जुलूस निकाला और ईद मिलादुन्नबी की शान में नारे लगाए। वहीं, जुगसलाई में भी मिलादुन्नबी का जश्न मनाया गया। इसमें हर उम्र के लाेग शामिल हुए। ईद मिलादुन्नबी काे लेकर शहर की मस्जिदों, मदरसों और मुहल्लों में नबी की शान में लिखे बैनर लगाए गए और सजावट की गई थी। धातकीडीह सेंटर मैदान में उलेमा-ए-कराम की तकरीर, सलात सलाम और सामूहिक दुआ हुई। इसमें बड़ी संख्या में लाेग शामिल हुए। ईद मिलादुन्नबी के मौके पर मानगो आजादनगर स्थित मदरसा दारूस सलाम में जश्न-ए-ईद समारोह का आयोजन किया गया। नमाज फजर (सुबह की नमाज) के बाद कुरानख्वानी, नातख्वानी, मिलाद व फातिहाख्वानी हुई। समारोह के दौरान हाफिज जलालुद्दीन ने नबी (स.अ) की जीवनी पर रोशनी डालें। उन्होंने कहा कि अल्लाह ने नबी (स.अ) को समस्त संसार के लिए रहमत बनाकर भेजा, ताकि बुराइयों को समाप्त किया जा सके। उन्होंने अपनी उम्मत को सब्र का संदेश दिया। हमें उन पर अधिकाधिक दरूद व सलाम भेजना चाहिए। मौके पर मौलाना हामिद रजा, अधिवक्ता कैसर शकील, मो. हुसैन, अब्दुल गनी, गालिब असलम, इरफान अहमद सहित बड़ी संख्या में मदरसा के छात्र मौजूद थे।

धातकीडीह से निकला जुलूस।

टेल्को में ईद मिलादुन्नबी पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल लोग।

टेल्को में आयोजित कार्यक्रम में शामिल लोग।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना