कोरोनावायरस / जमशेदपुर में धारा 144 के बीच खुली हैं दुकानें और मॉल, पोटका में तीर्थयात्रियों से भरी बस को रोका, जांच के बाद 14 दिन एतिहात बरतने के निर्देश

पोटका में बस के उतारे गए तीर्थयात्री। पोटका में बस के उतारे गए तीर्थयात्री।
मानगो गोलचक्कर के पास वाहन चालकों की धर-पकड़ करती पुलिस। मानगो गोलचक्कर के पास वाहन चालकों की धर-पकड़ करती पुलिस।
X
पोटका में बस के उतारे गए तीर्थयात्री।पोटका में बस के उतारे गए तीर्थयात्री।
मानगो गोलचक्कर के पास वाहन चालकों की धर-पकड़ करती पुलिस।मानगो गोलचक्कर के पास वाहन चालकों की धर-पकड़ करती पुलिस।

  • प्रशासन ने सशर्त दी है मॉल की खुली रखने की छूट, सैनिटाइजर आदि व्यवस्था करने के निर्देश
  • कालाबाजारी रोकने के लिए टीम का गठन, पकड़े जाने पर होगी कानूनी कार्रवाई
  • मॉल के गेट पर हाथ धुलाने के लिए सैनेटाइजर व मेडिकेटेड साबुन की व्यवस्था

दैनिक भास्कर

Mar 24, 2020, 12:29 PM IST

जमशेदपुर. कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन के बीच मंगलवार को प्रशासन की टीम ने पोटका में तीर्थयात्रियों से भरी बस को रोका। इसके बाद सभी यात्रियों की जांच के लिए उन्हें पोटका स्वास्थ्यकेंद्र भेजा गया। वहां से इन्हें घर रवाना कर दिया गया। साथ ही अगले 14 दिनों तक उन्हें एतिहात बरतने की हिदायत दी गई है। वहीं लॉकडाउन के बीच पुलिस ने सख्ती बरतते हुए मानगो गोलचक्कर के पास घूम रहे वाहन चालकों को रोका और चालान काटा। 

शहर में खुले हैं खाद्य सामग्री के दुकान व मॉल
जमशेदपुर में खाद्य सामग्री के दुकान व मॉल खुले हुए हैं। प्रशासन ने खाद्य पदार्थों के कालाबाजारी की आशंका को लेकर खाद्य प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति दी है। इनमें सिर्फ आटा, दाल, चावल, सब्जियां और अन्य जरूरी खाद्य सामग्री की ही बिक्री हो रही है। इस संबंध में प्रशासन ने मॉल संचालकों को स्पष्ट हिदायत दी गई है। 

प्रशासन की ओर से हिदायत दी गई है और उन्हें यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि किसी भी कीमत पर एक साथ ज्यादा भीड़ नहीं होनी चाहिए। जिन मॉल को खोलने की अनुमति दी गई है उनमें रिलायंस फ्रेस, पीएंडएम मॉल बिष्टुपुर और बिग बाजार शामिल हैं। प्रशासन का मानना है इन मॉल में निर्धारित दर पर खाद्य सामग्री की बिक्री होने से लोगों को मुनाफाखोरी से राहत मिलेगी।

प्रशासन ने संचालकों को गेट पर सैनेटाइजर व मेडिकेटेड साबुन, डिटॉल आदि की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। मॉल में खरीदारी करने आने वाले सभी ग्राहकों को हाथ धुलाने के बाद ही अंदर जाने की अनुमति देने को कहा गया है। उल्लंघन होने पर मॉल संचालकों पर कार्रवाई होगी।

अधिक दाम पर खाद्य सामग्री बेचते पाए गए तो दुकानदारों पर होगी कार्रवाई, लाइसेंस होगा रद्द
डीसी रविशंकर शुक्ला ने कहा कि खाद्य सामग्री, सैनेटाइजर व मॉस्क की कालाबाजारी की शिकायतें मिल रही हैं। इसे रोकने के लिए दो स्तरीय जांच टीम का गठन किया गया है। टीम सभी इलाकों के बाजारों में घूम-घूमकर जांच करेगी। जो भी दुकानदार अधिक कीमत पर खाद्य सामग्री बेचते पाए जाएंगे, तो कार्रवाई की जाएगी। दुकान के माप-तौल का लाइसेंस भी रद्द किया जा सकता है। मंगलवार शाम से प्रमुख बाजारों में जन सुविधा केंद्र भी शुरू कर दिए जाएंगे। कृषि बाजार समिति की दर पर चावल, आटा, दाल, चीनी, चायपत्ती,आलू-प्याज की बिक्री होगी।

एक साथ पांच लोगों के जमा होने पर दर्ज हो सकती है एफआईआर
जिला प्रशासन ने लोगों के एक स्थान पर जमा होने पर रोक लगा दी है। कोरोना वायरस का प्रकोप न फैले इसके लिए अनुमंडल क्षेत्र में धारा 144 लगा दी है। इसकी उद्घोषणा बाजार और क्षेत्रों में की गई। जिला जनसंपर्क कार्यालय और जमशेदपुर अक्षेस के अधिकारियों की उद्घोषणा लाउड स्पीकर के माध्यम से की। इसके साथ ही एक ही स्थान पर पांच लोगों के जमा होने पर एफआईआर दर्ज हो सकती है।
 
शहर में कोरोना के 5 नए संदिग्ध, कुल 33 में 31 की रिपोर्ट निगेटिव
शहर के विभिन्न इलाकों में सोमवार को कोरोना के 5 नए संदिग्ध मरीज मिले। सर्विलांस टीम ने सभी का सैंपल जांच के लिए एमजीएम भेज दिया है। इसके साथ ही पूर्वी सिंहभूम जिले में संदिग्ध मरीजों की संख्या बढ़कर 33 हो गई है। इनमें से 31 की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। वहीं दो संदिग्ध मरीजों के सैंपल की जांच प्रक्रिया चल रही है। एमजीएम कॉलेज के वायरोलॉजी लैब में सोमवार शाम तक कुल 16 सैंपल जांच के लिए आए। इसमें जमशेदपुर के पांच सैंपल शामिल हैं। इसके साथ ही लैब में अब तक कुल 61 सैंपल आ चुके हैं, जिनमें 53 की रिपोर्ट निगेटिव है। अस्पताल प्रबंधन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार रविवार शाम तक अस्पताल में कुल 44 सैंपल आए थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना