जमशेदपुर / बाबूलाल सोरेन की तबीयत खराब थी, जमानत के कागजात पहुंचते ही नाचते-गाते अस्पताल से डिस्चार्ज

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 12:44 PM IST



एमजीएम अस्पताल से निकलते बाबूलाल। एमजीएम अस्पताल से निकलते बाबूलाल।
X
एमजीएम अस्पताल से निकलते बाबूलाल।एमजीएम अस्पताल से निकलते बाबूलाल।

  • सरकारी काम में बाधा डालने के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था, जेल में ही तबीयत बिगड़ी थी 

जमशेदपुर. झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता और सरायकेला विधायक चंपई सोरेन के बेटे बाबूलाल सोरेन को कोर्ट से जमानत मिलने के बाद बुधवार को एमजीएम अस्पताल से रिहा हुए। तबीयत खराब होने के नाम पर जेल से उन्हें एमजीएम के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। आईसीयू से बुधवार को रिलीज किया गया। शाम को उनको अस्पताल से निकाला गया तो उनके इंतजार में घाटशिला और इसके आसपास के इलाके की महिलाएं और पुरुष इंतजार कर रहे थे। परंपरागत वेशभूषा में अादिवासी पहुंचेे। बाबूलाल सोरेन के रिहा होते ही ढोल-नगाड़े के बीच उनका फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया। 

 

दो किलोमीटर पैदल चले बाबूलाल, नहीं दिखे तबीयत खराब होने के लक्षण
इसके बाद ढोल नगाड़े के साथ नाचते-गाते जुलूस की शक्ल में एमजीएम से उपायुक्त कार्यालय तक पहुंचे। रास्ते भर बाबूलाल सोरेन पैदल चलते रहे। तबीयत खराब होने का कोई भी लक्षण उनमें दिखाई नहीं दिया। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी उनके साथ थे। रास्ते पर लोगों का अभिवादन स्वीकार करते रहे। लगभग दो किलोमीटर तक पैदल चलने के बाद बाबूलाल सोरेन विजेता के तौर पर अपने आप को प्रस्तुत किया। बाबूलाल सोरेन 12 मई को गिरफ्तार किया गया था। 18 अप्रैल को चुनाव के दौरान जादूगोड़ा में पुलिस जांच के दौरान उन्होंने पुलिसकर्मियों को जांच तो करने नहीं ही दिया था। पुलिस अधिकारियों को धक्का देकर फरार हो गए थे। उनपर सरकारी काम में बाधा डालने के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके बाद बाबूलाल को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जेल में रहने के बाद तबीयत बिगड़ने के बाद उनको जेल से एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां से वे रिहा हुए। 

 

न्यायिक प्रक्रिया में पूरा भरोसा : बाबूलाल सोरेन 
झामुमो नेता बाबूलाल सोरेन ने जेल से छूटने के बाद कहा कि वे न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान करते हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान गिरफ्तार होने के एक माह बाद वे जेल से छूटे हैं। कानूनी प्रक्रिया चली है, इसमें गलती मेरी नहीं थी फिर भी हमपर पुलिस की ओर से एफआईआर दर्ज किया गया। 

COMMENT