राजनीति / जमशेदपुर पश्चिम विधानसभा सीट पर डॉक्टर अजय कुमार की उम्मीदवारी पर उलझे हैं कांग्रेस के दिग्गज



डॉक्टर अजय कुमार। (फाइल फोटो) डॉक्टर अजय कुमार। (फाइल फोटो)
X
डॉक्टर अजय कुमार। (फाइल फोटो)डॉक्टर अजय कुमार। (फाइल फोटो)

  • लोकसभा चुनाव में हार के बाद से कांग्रेस में बवाल मचा, निशाने पर प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय 

Dainik Bhaskar

Jun 01, 2019, 01:36 PM IST

जमशेदपुर. लोकसभा चुनाव में हार के बाद से कांग्रेस में बवाल मचा हुआ है। निशाने पर प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार हैं। डॉ अजय के समर्थक और विरोधी एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। पूर्व मंत्री बन्ना गुप्ता और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार बालमुचू प्रदेश अध्यक्ष पर इस्तीफे और लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेने की मांग बनाकर दबाव बना रहे हैं। डॉ अजय भी उसको लेकर हमलावर हैं। 

 

जमशेदपुर पश्चिम विधानसभा सीट पर टिकट की लड़ाई
दरअसल, कांग्रेस के अंदर आगामी विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पश्चिम विधानसभा सीट पर टिकट की लड़ाई चल रही है। कांग्रेस का टिकट के मुख्य दावेदार पूर्व मंत्री बन्ना गुप्ता हैं। इस सीट पर प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार की भी नजर है। डॉ अजय कुमार के चुनाव लड़ने की इच्छा की सूचना मिलने के बाद से बन्ना गुप्ता मोर्चा खोल दिया है। बन्ना गुप्ता को डर है कि प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते वे कांग्रेस का टिकट हासिल कर सकते हैं। एेसे में वे टिकट से वंचित रह सकते हैं। डॉ अजय कुमार विधानसभा चुनाव लड़ कर झारखंड की राजनीति में सक्रिय होना चाहते हैं। इस बात की अंदरखाने से जानकारी मिलने के बाद से बन्ना गुप्ता डॉ अजय कुमार पर हमलावर अधिक हैं ताकि प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर डॉ अजय कुमार की विदाई हो जाए और उनका कद घट जाए। इससे उनको जमशेदपुर पश्चिम से कांग्रेस का टिकट आसानी से मिल सकता है। 

 

बन्ना गुप्ता को डॉ अजय कुमार का डर 
पूर्व मंत्री बन्ना गुप्ता को डॉ अजय कुमार का खौफ है। जमशेदपुर पश्चिम विधानसभा चुनाव में टिकट उनको दरकिनार कर डॉ अजय टिकट हथिया सकते हैं। एेसे में बन्ना गुप्ता का एक बार फिर से विधायक नहीं बन पाएंगे। डॉ अजय को कमजोर साबित करने में बन्ना ने मुहिम चालू कर रखा है। 

 

डॉ अजय के लिए सेफ सीट है जमशेदपुर पश्चिम 
प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार के लिए जमशेदपुर पश्चिम विस सीट सुरक्षित तौर पर देखा जा रहा है। करीबियों ने पश्चिम में चुनाव लड़ने के लिए दबाव बनाया है। उनका मानना है कि डॉ अजय कुमार यहां से आसानी से चुनाव जीत सकते हैं। सेफ सीट होने के नाते डॉ अजय कुमार भी पश्चिम में अधिक दिलचस्पी दिखा रहे हैं। 

 

बन्ना को प्रदीप बालमुचू का मिल रहा साथ 
प्रदीप बालमुचू का साथ बन्ना गुप्ता को मिल रहा है। प्रदीप बालमुचू बन्ना के समर्थन में भी आवाज उठा रहे हैं। वे भी डॉ अजय कुमार पर हमलावर हैं। प्रदेश अध्यक्ष पद पर उनकी नजर है। प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर पहले भी काम करने का अनुभव रहा है। एेसे में वे डॉ अजय को कमजोर साबित कर अपना रास्ता भी बनाना चाह रहे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना