जमशेदपुर / वॉलीबॉल खेलने दोस्तों के साथ गए छात्र की डूबने से मौत, दाेस्त ने गढ़ी अपहरण की कहानी



आदर्श कुमार भारद्वाज। (फाइल फोटो) आदर्श कुमार भारद्वाज। (फाइल फोटो)
jamshedpur news Student death due to drowning in jamshedpur gamhariya
jamshedpur news Student death due to drowning in jamshedpur gamhariya
X
आदर्श कुमार भारद्वाज। (फाइल फोटो)आदर्श कुमार भारद्वाज। (फाइल फोटो)
jamshedpur news Student death due to drowning in jamshedpur gamhariya
jamshedpur news Student death due to drowning in jamshedpur gamhariya

  • गम्हरिया के जगन्नाथपुर रोड नंबर 8 का निवासी था आदर्श भारद्वाज, बचाने गया दाेस्त प्रिंस भी डूबने लगा, राहुल ने हाथ खींचकर उसे निकाला 
  • दोस्तों ने अलग कहानी गढ़ने का प्रयास किया, लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर प्रिंस टूट गया और पुलिस के सामने सारी सच्चाई उगल दी 

Dainik Bhaskar

Oct 21, 2019, 12:35 PM IST

जमशेदपुर. वॉलीबॉल खेलने की बात कहकर दोस्तों के साथ घर से निकले जगन्नाथपुर रोड नंबर 8 निवासी सातवीं के छात्र आदर्श कुमार भारद्वाज (15 वर्ष) की नहाने के दौरान सुवर्णरेखा नदी में डूबने से मौत हो गई। घटना शनिवार की है। देर शाम तक जब वह घर नहीं लाैटा, ताे पिता विकास सिंह ने गम्हरिया थाना में उसकी गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया। 

 

पुलिस ने रविवार सुबह नाै बजे डोबो के पास नदी में तैरते अादर्श के शव काे बरामद किया अाैर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अादर्श के पिता ने जब साथ गए उसके दाेस्त प्रिंस से पूछताछ की ताे उसने घटना काे अपहरण का रूप देने की काेशिश की। लेकिन पुलिस के कड़ाई से पूछने पर उसने अादर्श के नदी में डूबने से माैत हाेने की बात स्वीकर कर ली। तीन भाइयों में मंझला आदर्श कुमार भारद्वाज केरला पब्लिक स्कूल, गम्हरिया में सातवीं कक्षा में पढ़ता था। वह मेधावी था। 

 

तीन दोस्तों के साथ निकला था आदर्श
परिजनाें के अनुसार वह शनिवार दोपहर 12 बजे वॉलीबॉल खेलने की बात कहकर अपने तीन दाेस्ताें के साथ घर से निकला था, लेकिन चाराें सुवर्णरेखा नदी के गौरी गांव घाट पर नहाने चला गए। नहाने के दाैरान अादर्श नदी में डूबने लगा। उसे बचाने गए दाेस्त प्रिंस भी डूबने लगा। दाेनाें काे डूबते देख तीसरा दाेस्त राहुल कुमार ने नदी में छलांग लगा दी। उसने प्रिंस का हाथ पकड़कर बाहर खींच लिया। लेकिन आदर्श को नहीं बचा पाया। घटना के बाद अादर्श के तीनाेंं दोस्त अपने अपने घर चले गए, लेकिन डर कर अपने अाैर अादर्श के परिजानाें काे कुछ नहीं बताया। आदर्श के घर वालाें ने जब उसके दोस्त प्रिंस से पूछताछ की, ताे उसने कहा कि आदर्श को एक बाइक सवार ने पकड़ लिया अाैर मुंह में रूमाल डालकर अपने साथ ले गया। गम्हरिया पुलिस ने भी उसके तीनों दोस्ताें के साथ पूछताछ की, लेकिन उन्हाेंनाें अलग कहानी गढ़ने का प्रयास किया। कड़ाई से पूछताछ करने पर प्रिंस टूट गया और पुलिस के सामने सारी सच्चाई उगल दी। उसने बताया कि पुलिस के डर से वह झूठ बोल रहा था। 

 

शव के घर पहुंचते ही चीत्कार कर उठे परिजन 
गम्हरिया पुलिस ने गौरी घाट के पास अादर्श की साइकिल अाैर कपड़े बारामद किए हैं। पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचते ही पूरे जगन्नाथपुर में मातम छा गया। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। माता-पिता दहाड़ मारकर रो रहे थे। शाम को पार्वती घाट पर उसका अंतिम संस्कार किया गया। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना