अंडर-19 / बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सुशांत ने नेट्स में रैना को दूसरी ही गेंद पर बोल्ड किया था, बुमराह को आदर्श मानते हैं

सुशांत मिश्रा और कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो) सुशांत मिश्रा और कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो) सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)
कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो) कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो) सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)
कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो) कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
पिता शशिकांत के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो) पिता शशिकांत के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
रोहित शर्मा के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो) रोहित शर्मा के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो) सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)
X
सुशांत मिश्रा और कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)सुशांत मिश्रा और कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)
कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)
कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
पिता शशिकांत के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)पिता शशिकांत के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
रोहित शर्मा के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)रोहित शर्मा के साथ कुमार कुशाग्र। (फाइल फोटो)
सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)सुशांत मिश्रा। (फाइल फोटो)

  • डीएवी पुदांग में 12वीं के स्टूडेंट हैं सुशांत मिश्रा, पिता सेल्स में तो मां हाउस वाइफ हैं
  • शुरुआत में जहीर खान को फॉलो करते थे, अब जसप्रीत बुमराह रोल मॉडल हैं
  • सुशांत डीएवी पुंदाग में तो कुशाग्र जमशेदपुर लोयला के स्टूडेंट हैं, दोनों 12वीं के छात्र हैं

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 04:03 PM IST

रांची. बचपन से क्रिकेट के प्रति जुनून... जब आईपीएल में रांची के जेएससीए क्रिकेट स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पहुंची तो वहां बॉल बॉय के तौर में एक युवा क्रिकेटर आया। नेट पर प्रैक्टिस के दौरान किसी ने उससे पूछा कि क्या करते हो तो उसने कहा कि वह बॉलर है। इसके बाद वह ग्राउंड में बॉलिंग करने के लिए पहुंचा। सामने थे- टीम इंडिया के बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना। पहली गेंद में तो सुरेश ने छक्का लगा दिया, लेकिन दूसरी गेंद में वे क्लीन बोल्ड हो गए। जिस युवा गेंदबाज ने उन्हें बोल्ड किया था- उसका नाम है सुशांत मिश्रा। 

झारखंड के दो युवा क्रिकेटर का चयन अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम के लिए हुआ है। यह टूर्नामेंट दक्षिण अफ्रीका में फरवरी 2020 में होगा।  पहले क्रिकेटर का नाम सुशांत मिश्रा है जो बाएं हाथ के तेज गेंदबाज है। दूसरे क्रिकेटर के रूप में कुमार कुशाग्र हैं। विकेटकीपर-बैट्समैन हैं। सुशांत रांची के पुंदाग के और कुशाग्र जमशेदपुर के रहने वाले हैं। दोनों युवा क्रिकेटर के आखिर तक टीम इंडिया के साथ जुड़ जाएंगे। 
 
डीएवी पुंदाग में 12वीं के स्टूडेंट हैं सुशांत मिश्रा
समीर मिश्रा ने बताया कि सुशांत उनके इकलौते बेटे हैं। उनकी शुरुआती पढ़ाई डीएवी पुंदाग से हुई है। फिलहाल, वे डीएवी पुंदाग से 12वीं के स्टूडेंट हैं। क्रिकेट और पढ़ाई के बीच पिछले साल उन्होंने ड्रॉप भी किया था। उनका परिवार मूल रूप से दरभंगा बिहार से है। सुशांत का जन्म रांची में ही है और तब से उनका परिवार रांची के पुंदाग में ही रहता है। सुशांत के पिता समीर मिश्रा सेल्स में हैं जबकि उनकी मां ममता देवी हाउस वाइफ हैं। सुशांत के पिता ने बताया कि सुशांत को उन्होंने बचपन में रांची के शशिकांत पाठक के क्रिकेट एकेडमी में प्रशिक्षण दिलाया था। इसके बाद वे सत्यम रॉय के क्रिकेट एकेडमी हरमू यूथ से जुड़ गए। 2012 में सुशांत ने डिस्ट्रिक्ट लेवल पर खेलना शुरू किया था। इसके बाद वे स्टेट लेवल पर खेले। फिर 2016 में वे बंगुलरु स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी से जुड़े। 

जसप्रीत बुमरा को मानते हैं रोल मॉडल
सुशांत मिश्रा ने जब क्रिकेट खेलना शुरू किया था तब वे जहीर खान को अपना रोल मॉडल मानते थे, फिलहाल वे जसप्रीत बुमराह को फॉलो करते हैं। सुशांत इससे पहले तीन से 15 सितंबर तक श्रीलंका में खेले गए यूथ एशिया कप के लिए टीम इंडिया के लिए खेल चुके हैं। साथ ही वे रांची अंडर-16 टीम की कप्तानी भी कर चुके हैं। सुशांत की मां ममता देवी का कहना है कि वे शुरू से ही क्रिकेट के पीछे पागल थे। आमतौर पर बच्चे कार्टून चैनल देखना पसंद करते हैं लेकिन सुशांत क्रिकेट देखा करते थे। 

विकेटकीपर-दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं कुमार कुशाग्र

जमशेदपुर के रहने वाले कुमार कुशाग्र विकेटकीपर और राइट हैंड के बैट्समैन हैं। कुशाग्र के पिता शशिकांत जमशेदपुर में अन्वेषण ब्यूरो में वाणिज्य विभाग में सहायक आयुक्त हैं। उन्होंने बताया कि वे रांची के चुटिया के रहनेवाले हैं। फिलहाल, उनका परिवार जमशेदपुर में रहता है। कुशाग्र के अलावा उनके घर में दो बहनें हैं। कुशाग्र ने 10 साल की उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। फिलहाल, वे जमशेदपुर लोयला स्कूल में इंटर के स्टूडेंट हैं। कुशाग्र ने 2015-16 के बीच अंडर 14 बोकारो से खेला था। इसी वक्त उनका सिलेक्शन अंडर-16 टीम में हुआ।

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना