एजुकेशन / झारखंड के विद्यार्थियों का सरकारी मेडिकल कॉलेजों में दाखिला इस साल मुश्किल रहेगा

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 12:01 PM IST



Jharkhand students enrolled in government medical colleges
X
Jharkhand students enrolled in government medical colleges

  • सरकारी मेडिकल कॉलेजों में दाखिला का न्यूनतम कट अॉफ 570-580 के बीच जाएगा 
  • साढ़े पांच हजार सीटों पर 600 अंक से ज्यादा वाले विद्यार्थियों का दाखिला

जमशेदपुर. देश के सरकारी और मेडिकल कॉलेजों में दाखिला के लिए होने वाली नीट परीक्षा के परीक्षार्थियों के लिए इस साल सरकारी कॉलेज में एडमिशन पाना आसान नहीं होगा। आसान सवाल के चलते इस साल बढ़े कट अलफ के चलते सरकारी कॉलेजों में दाखिला का कट ऑफ भी बढ़ने वाला है। 

 

इस साल 570-580 कट ऑफ जाने की संभावना
पिछले साल अल इंडिया कोटा की 15 फीसदी सीटों के अलावा राज्य के सरकारी कॉलेजों में दाखिला के लिए न्यूनतम कट अॉफ 556 रहा था, जो इस साल 570-580 के बीच जाने की संभावना है। देश के सरकारी मेडिकल कॉलेजों की कुल सीटें 30 हजार (बीडीएस समेत) की साढ़े पांच हजार सीटें अल इंडिया कोटे में आती है, जिसमें 600 अंकों के पार वाले स्टूडेंट्स को ही दाखिला मिलेगा। बाकी सीटों पर दाखिला हर राज्य अपने स्तर से लेते हैं, जिसका न्यूनतम कट अॉफ 570 तक आने की संभावना है। झारखंड के विद्यार्थियों के लिए सरकारी कॉलेजों में सीट पाना ईश्वर से मिलने के समान होगा। यहां पर केवल तीन सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं, जिसमें 250 सीटें हैं। 

 

राज्य की तीन सरकारी कॉलेजों में मात्र 250 सीटें 
राजेन्द्र मेडिकल कॉलेज रांची में 150 और पीएमसीएच धनबाद में 50 और एमजीएम जमशेदपुर में केवल 50 सीटें हैं। इन ढ़ाई सौ सीटों में आधी सीटें आरक्षित है। ऐसे में सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए इन कॉलेजों में दाखिला बेहद मुश्किल होगा। झारखंड के 18285 उम्मीदवार इस साल नीट के लिए रजिस्ट्रेशन किए थे। इसमें से 16934 उम्मीदवार परीक्षा में शामिल हुए। इस साल नीट में झारखंड के क्वालिफाई होने वाले विद्यार्थियों का प्रतिशत 60.81 फीसदी रहा है। इस तरह झारखंड के लगभग साढ़े दस हजार स्टूडेंट्स नीट में क्वालिफाई किए हैं, लेकिन सीटें केवल 250 है। यानि क्वालिफाई होने वाले 42 स्टूडेंट्स पर केवल एक सीट हैं। 

 

देश के टॉप-5 मेडिकल कॉलेजों में क्या रहा था क्लोजिंग रैंक 
 

कॉलेज 2018 2017 2016 
मोलाना अाजाद मेडिकल कॉलेज दिल्ली 58 49 44
सफदरजंग हॉस्पिटल नई दिल्ली 107 82 106
यूनिवर्सिटी कॉलेज अॉफ मेडिकल साइंसेस नई दिल्ली 165 185 128
लेडी हार्डिंग्स मेडिकल कॉलेज दिल्ली 314 369 263 
गर्वमेंट मेडिकल कॉलेज चंडीगढ़ 254 278 162


कितना बढ़ा न्यूनतम कट अॉफ 
 

केटेगरी 2018 2019
यूआर (सामान्य) 691-119 701-134
ओबीसी 118-96 133-107
एससी 118-96 133-107
एसटी 118-96 133-107 

झारखंड से ज्यादा बिहार में मेडिकल कॉलेज, इसलिए दाखिला पाना आसान 
झारखंड की तुलना में बिहार में सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिला पाना आसान रहेगा। राज्य में 9 मेडिकल कॉलेज हैं, जिसमें एक हजार के करीब सीटें है। ऐसे में बिहार के स्टूडेंट्स को सरकारी कॉलेज पाना ज्यादा आसान होगा। यहां के सरकारी कॉलेजों में पिछले साल 560 तक कट अॉफ गया था। सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं-एनएमसीएच पटना, पीएमसीएच पटना, इंदिरा गांधी इन्स्टीट्यूट अलफ मेडिकल साइंस पटना, डीएमसीएच दरभंगा, जेएनएमसी भागलपुर, एएनएमएमसी गया, एसकेएमसी मुजफ्फरपुर, सरकारी मेडिकल कॉलेज बेतिया और वर्धमान इन्स्टीट्यूट अॉफ मेडिकल कॉलेज नालंदा। 

COMMENT