• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
--Advertisement--

साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान

Jamshedpur News - मानगो आजादनगर निवासी जर्दा व्यापारी मोहम्मद साकिर की हत्या मामले में पुलिस हर बिंदू पर जांच कर रही है। पुलिस का...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:05 AM IST
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
मानगो आजादनगर निवासी जर्दा व्यापारी मोहम्मद साकिर की हत्या मामले में पुलिस हर बिंदू पर जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि अभी यह बताना उचित नहीं है कि इस हत्या में किसका हाथ है, लेकिन सूत्रों की मानें तो पुलिस लूट के साथ व्यवसायिक व पारिवारिक दुश्मनी की भी जांच कर रही है। इधर, साकची के जर्दा व्यापारी और झंडा चौक के दुकानदारों ने दो घंटे दुकान बंद कर विरोध किया।

पुलिस ने साेमवार की सुबह से दोपहर तक शीतला मंदिर चौक, होटल जीवा और आसपास के सभी प्रतिष्ठानों में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज काे खंगाला। पुलिस को फुटेज में तीन युवक शीतला मंदिर चौक के पास खड़े दिख रहे हैं। तीनों ने चेहरे पर रूमाल बांध रखा है, इसलिए उनका चेहरा दिखाई नहीं दे रहा है। रात हाेने के कारण गाड़ी का नंबर भी साफ दिखाई नहीं दे रहा है। जांच पर कोई असर न पड़े इसलिए पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध नहीं कराए। मालूम हो कि रविवार की रात 11 बजे साकची शीतला मंदिर चौक के पास बाइक सवार तीन अपराधियों ने जर्दा व्यापारी मोहम्मद साकिर और उनके चचेरे भाई साकची मोहम्मडन लाइन निवासी कमर इकबाल को गोली मार दी थी। इस घटना में साकिर को दो गोली छाती में और एक बांह में लगी थी। साकिर की मौत घटनास्थल पर ही हो गई थी, जबकि कमर को कमर में गोली लगी थी। कमर का इलाज टीएमएच में चल रहा है। उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। घायल कमर इकबाल के बयान पर घटना की लिखित शिकायत दर्ज की गई है। कमर ने बताया कि उनके पास दिनभर के कारोबार के चार से पांच लाख रुपए थे, जिसे अपराधी लूट कर फरार हो गए। कमर के बयान पर तीन अज्ञात के खिलाफ लूट और हत्या का मामला दर्ज कराया गया है। लूट और हत्या के सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया है। तीन अपराधियों के हाेने की पुष्टि हुई है। बहुत जल्द अपराधी पकड़ में होंगे। पुलिस जांच में जुटी है। घटना के दिन 50 हजार रुपए लूट की बात सामने आई थी, लेकिन अभी पांच लाख रुपए लूट की बात आ रही है। अपराधियों ने रेकी कर अंजाम दिया होगा, इससे इनकार नहीं किया जा सकता है।

परिवार के लोगों को सारी बातें पुलिस को बतानी चाहिए : अनूप बिरथरे

साकिर के जनाजे में शामिल हुए लाेग, मानगो घर पर मचा कोहराम

पोस्टमार्टम के बाद साकिर का शव दोपहर 12 बजे मानगो आजादनगर स्थित घर पहुंचा। घर पर रिश्तेदार, दोस्त के साथ व्यापारी व साकची के दुकानदार भी पहुंचे। साकिर के बेटा और बेटी की स्थिति खराब हो रही थी। वे बार-बार पूछ रहे थे कि अब्बू को क्या हो गया। क्यों उन्हें मार दिया गया। शाम चार बजे उनके निवास स्थान से जनाजा निकला और पांच बजे दफना दिया गया।

साकची में प्रदर्शन करते व्यापारी।

साकची बाजार में बंद दुकानें।

साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
X
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
साकची बाजार बंद रहा, बदमाशों के चेहरे पर रूमाल, सीसीटीवी फुटेज से नहीं हो रही पहचान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..