• Home
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • अवैध तरीके से चल रहा था वार्ड सदस्य का आरओ संयंत्र, बीडीओ ने सील कराया
--Advertisement--

अवैध तरीके से चल रहा था वार्ड सदस्य का आरओ संयंत्र, बीडीओ ने सील कराया

बागबेड़ा सीपी टोला में चल रहे आरओ-यूवी संयत्र को प्रशासन ने अवैध बताते हुए गुरुवार को सील कर दिया। जमशेदपुर की...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:55 AM IST
बागबेड़ा सीपी टोला में चल रहे आरओ-यूवी संयत्र को प्रशासन ने अवैध बताते हुए गुरुवार को सील कर दिया। जमशेदपुर की बीडीओ पारुल सिंह ने स्थानीय लोगों की शिकायत पर यह कार्रवाई की। जिस संयंत्र को सील किया है, वह वार्ड सदस्य विजयालक्ष्मी कुमारी का है। इस कारण सीलिंग की कार्रवाई के बाद बागबेड़ा क्षेत्र के पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधि दो गुट में बंट गए हैं।

इस आरओ संयंत्र को बंद कराने की मांग को लेकर स्थानीय लोगों के साथ दक्षिण बागबेड़ा पंचायत के मुखिया पहाड़ सिंह ने बीडीओ से पूर्व में शिकायत की थी। गुरुवार को स्थानीय लोगों ने अशोक यादव की अगुवाई में डीसी ऑफिस के समक्ष प्रदर्शन किया और अपनी मांगों के समर्थन में ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया- आरओ संयंत्र के कारण सीपी टोला क्षेत्र का भूगर्भीय जलस्तर 500 फीट से नीचे चला गया है। अधिकतर लोगों की बोरिंग फेल हो गई है। आस-पास के इलाकों में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। प्रदर्शन के दरम्यान ही बीडीओ ने सीपी टोला पहुंच कर संयंत्र की जांच की और उसे अवैध बताते हुए सील करवा दिया।

डीसी ऑफिस के समक्ष प्रदर्शन करते सीपी टोला के वाशिंदे।

कार्रवाई का जनप्रतिनिधियों ने किया विरोध

इधर, आरओ संयंत्र को सील किए जाने की कार्रवाई का पंचायती राज व्यवस्था के जनप्रतिनिधियों ने विरोध शुरू कर दिया है। पंसस (पंचायत समिति सदस्य) चंदा देवी, जीतेंद्र यादव, वार्ड सदस्य कपिल शर्मा, पुष्पा प्रसाद व विजया लक्ष्मी कुमारी ने संयुक्त रूप से कहा- विजया के पति संजय कुमार नि:शुल्क जलापूर्ति करते हैं। पिछले दिनों दक्षिण बागबेड़ा कॉलोनी में घटिया शौचालय निर्माण, विकास योजनाओं में मुखिया पहाड़ सिंह द्वारा कमीशनखोरी की शिकायत प्रशासन से की गई थी। इस शिकायत के आलोक में प्रशासन ने कार्रवाई की। अब मुखिया और उनके कुछ बिचौलियों ने बीडीओ को गलत सूचना देकर गुमराह किया है।

सिटी रिपोर्टर | जमशेदपुर

बागबेड़ा सीपी टोला में चल रहे आरओ-यूवी संयत्र को प्रशासन ने अवैध बताते हुए गुरुवार को सील कर दिया। जमशेदपुर की बीडीओ पारुल सिंह ने स्थानीय लोगों की शिकायत पर यह कार्रवाई की। जिस संयंत्र को सील किया है, वह वार्ड सदस्य विजयालक्ष्मी कुमारी का है। इस कारण सीलिंग की कार्रवाई के बाद बागबेड़ा क्षेत्र के पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधि दो गुट में बंट गए हैं।

इस आरओ संयंत्र को बंद कराने की मांग को लेकर स्थानीय लोगों के साथ दक्षिण बागबेड़ा पंचायत के मुखिया पहाड़ सिंह ने बीडीओ से पूर्व में शिकायत की थी। गुरुवार को स्थानीय लोगों ने अशोक यादव की अगुवाई में डीसी ऑफिस के समक्ष प्रदर्शन किया और अपनी मांगों के समर्थन में ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया- आरओ संयंत्र के कारण सीपी टोला क्षेत्र का भूगर्भीय जलस्तर 500 फीट से नीचे चला गया है। अधिकतर लोगों की बोरिंग फेल हो गई है। आस-पास के इलाकों में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। प्रदर्शन के दरम्यान ही बीडीओ ने सीपी टोला पहुंच कर संयंत्र की जांच की और उसे अवैध बताते हुए सील करवा दिया।