• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • शंकर राव ने एडहॉक कमेटी के कार्यालय पर जड़ा ताला, दूसरे पक्ष ने दिया धरना
विज्ञापन

शंकर राव ने एडहॉक कमेटी के कार्यालय पर जड़ा ताला, दूसरे पक्ष ने दिया धरना

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 07:55 AM IST

Jamshedpur News - बिष्टुपुर स्थित आंध्रभक्त श्रीराम मंदिर प्रबंध कमेटी का चुनाव जैसे नजदीक आ रहा है दोनों टीमों के बीच विवाद बढ़ता...

शंकर राव ने एडहॉक कमेटी के कार्यालय पर जड़ा ताला, दूसरे पक्ष ने दिया धरना
  • comment
बिष्टुपुर स्थित आंध्रभक्त श्रीराम मंदिर प्रबंध कमेटी का चुनाव जैसे नजदीक आ रहा है दोनों टीमों के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। निवर्तमान अध्यक्ष सीएच शंकर राव ने गुरुवार को एडहॉक कमेटी के कार्यालय में ताला लगा दिया। वहीं, एम भास्कर राव की टीम के सदस्यों ने ताला खोलवाने को लेकर शाम छह बजे तक कार्यालय के गेट पर धरना दिया।

भास्कर राव टीम के महासचिव प्रत्याशी एसवी दुर्गा प्रसाद शर्मा ने कहा कि दोनों टीमों के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। प्रशासन इसे गंभीरता से नहीं लेगा तो खून-खराबा होने का आशंका है। इससे पहले भी दोनों पक्षों में कई बार विवाद हो चुका है, जिसको लेकर कोर्ट में मामला लंबित है। इधर, एसडीओ माधवी मिश्रा ने कहा कि किसी को विधि व्यवस्था खराब करने का अधिकार नहीं है। जो लोग कानून का उल्लंघन करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि एडहॉक कमेटी द्वारा गुरुवार को वोटर लिस्ट का अंतिम रूप से प्रकाशन किया जाना था।

बिष्टुपुर राम मंदिर में तालाबंदी के बाद पहुंचे भास्कर राव गुट के समर्थक।

एडहॉक कमेटी के कार्यालय पर ताला लगाना गुंडागर्दी : दुर्गा प्रसाद

एम भास्कर राव टीम के महासचिव पद के प्रत्याशी एसवी दुर्गा प्रसाद शर्मा ने कहा कि एडहॉक कमेटी प्रशासन की पहल और कमेटी के सदस्यों के द्वारा बनाई गई है। कमेटी संविधान के आधार पर न्यायसंगत कार्य कर रही है। साथ ही निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव कराने की तैयारी कर ली है। इससे अध्यक्ष पद के प्रत्याशी सीएच शंकर राव घबरा कर वोटरों को दिग्भ्रमित करने के लिए असंवैधानिक कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएच शंकर राव ने एडहॉक कमेटी के कार्यालय में ताला लगाकर गुंडागर्दी की है।

शंकर राव के रवैये से मंदिर की गरिमा खतरे में : भास्कर राव

एम भास्कर राव टीम के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी एम भास्कर राव ने कहा कि निवर्तमान अध्यक्ष सीएच शंकर राव के इस रवैये से मंदिर की गरिमा खतरे में है। इसलिए सभी सदस्य आगे आकर 27 मई के चुनाव में अपना बहुमूल्य वोट देकर उन्हें मंदिर से निकाल बाहर करने का काम करें। उन्होंने कहा कि सीएच शंकर राव ने असंवैधानिक तरीके से सदस्यों को दिग्भ्रमित करने के लिए तीन जून को चुनाव की तिथि घोषित की है, जो प्रशासन और समाज को मान्य नहीं है।

X
शंकर राव ने एडहॉक कमेटी के कार्यालय पर जड़ा ताला, दूसरे पक्ष ने दिया धरना
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें