माता मंगला रूठे नहीं इसलिए चढ़ाया केंदू व चाहर का फल

Jamshedpur News - जमशेदपुर| मंगला ओसा (मां मंगला) की पूजा मंगलवार को हुई। सुवर्णरेखा नदी घाट जाने वाले रास्ते पर मंगलवार को मां मंगला...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:50 AM IST
Jamshedpur News - mata mangala ruthi is not therefore given the fruit of the center and chahar
जमशेदपुर| मंगला ओसा (मां मंगला) की पूजा मंगलवार को हुई। सुवर्णरेखा नदी घाट जाने वाले रास्ते पर मंगलवार को मां मंगला के भक्त आराधना में लीन दिखे। महिलाएं नदी घाट से कलश भरकर लाने के क्रम में मां मंगला की भक्ति में झूमती दिखीं। मंगला ओसा के लिए कलश लाते श्रद्धालु भुइयांडीह ह्यूम पाइप रोड, सोनारी रामनगर, सरजामदा, बागुनहातू, भालूबासा व टुइलाडुंगरी के हरीश दास के घर समेत कई इलाकों की सड़कों में मां की आराधना में देर शाम को झूमते रहे। मां मंगला की पूजा खास तौर पर नि:संतान महिलाएं संतान सुख के लिए करती हैं। रात में कलश स्थापना के बाद मां मंगला को पलास, कोराट फूल, नारियल, केंदू, चाहर, मोहुल समेत जंगल में पाए जाने वाले फल-फूल चढ़ाए गए।

X
Jamshedpur News - mata mangala ruthi is not therefore given the fruit of the center and chahar
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना