मान्यता को लेकर गैर सरकारी विद्यालय संघ पहुंचा हाईकोर्ट

Jamshedpur News - बैठक करते झारखंड गैर-सरकारी विद्यालय संघ के पदाधिकारी। एजुकेशन रिपोर्टर | जमशेदपुर राईट टू एजुकेशन (आरटीई) के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:13 AM IST
Jamshedpur News - ngo reached high court regarding recognition
बैठक करते झारखंड गैर-सरकारी विद्यालय संघ के पदाधिकारी।

एजुकेशन रिपोर्टर | जमशेदपुर

राईट टू एजुकेशन (आरटीई) के तहत निजी स्कूलाें की मान्यता के लिए बनाई गई नियमावली के खिलाफ झारखंड गैर सरकारी विद्यालय संघ ने हाईकाेर्ट में याचिका दायर की है। इसमें मान्यता के लिए 12 से 25 हजार रुपए वसूलने के साथ ही स्कूल के लिए 30 वर्ष की लीज डीड की अनिवार्यता काे गलत बताते हुए चुनाैती दी गई है। मालूम हाे कि जब से विभाग ने मान्यता की प्रक्रिया शुरू की है, तभी से अधिकतर निजी स्कूल इसका विराेध कर रहे हैं। वे मान्यता की शर्ताें और इसके लिए पैसे की मांग काे गलत बताते हुए विराेध कर रहे हैं। संघ का कहना है कि इससे जिले के सैकड़ाें स्कूल बंद हाे जाएंगे। इससे हजाराें लाेग बेराेजगार हाेंगे। मालूम हाे कि विभाग ने मान्यता प्रक्रिया काे लेकर 17 अगस्त काे माइकल जाॅन आडिटोरियम में बैठक की थी। तब भी निजी स्कूलाें के विराेध का सामना विभाग के अफसरों काे करना पड़ा था। इधर, झारखंड गैर-सरकारी विद्यालय संघ की बैठक शुक्रवार काे मानगो पोस्ट ऑफिस रोड स्थित साउथ प्वाइंट स्कूल में मोहम्मद ताहिर हुसैन की अध्यक्षता में हुई। इसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि झारखंड गैर-सरकारी विद्यालय संघ का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री रघुवर दास से मिल कर ज्ञापन साैंपा था। सीएम ने स्पष्ट आश्वासन दिया था कि यथाशीघ्र विधानसभा से पारित कर झारखंड नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार नियमावली 2019 को शिथिल करते हुए संशोधन कर दिया जाएगा। अतः संघ सीएम के आश्वासन के आलोक में संशोधन की प्रतीक्षा करेगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि नियमावली में संशोधन होने एवं संघ द्वारा उच्च न्यायालय में दायर याचिका का फैसला आने तक शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत मान्यता हेतु जिला कार्यालय में आवेदन जमा नहीं करेगा।

काेर्ट का अादेश अाने तक मान्यता के लिए अावेदन नहीं करेंगे स्कूल

अब तक 505 स्कूलों में से सिर्फ 22 ने किया अावेदन

अारटीई के तहत निजी स्कूलाें काे मान्यता के लिए अावेदन करने की निर्धारित तिथि में दो दिन शेष हैं। लेकिन 505 में से सिर्फ 22 स्कूलाें ने ही अावेदन किया है। इसमें भी शहर के डीबीएमएस व राजेंद्र विद्यालय जैसे बड़े स्कूल शामिल हैं। हालांकि विभाग काे उम्मीद है कि शेष बचे दाे दिनाें में अधिक अावेदन जमा हाेंगे। लेकिन इसके बाद भी इसकी संख्या 100 से ऊपर जाने की संभावना बहुत कम है। हालांकि विभाग अावेदन की तिथि बढ़ाएगा या नहीं इसे लेकर विभाग कुछ भी बाेलने काे तैयार नहीं है। वह अंतिम तिथि तक का इंतजार करने की बात कर रहा है।

X
Jamshedpur News - ngo reached high court regarding recognition
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना