--Advertisement--

भक्तों ने शांति जुलूस निकाला, मन्नत पूरी होने पर मां मरियम को चढ़ाया ब्रेड



सेंट मेरीज चर्च में कैंडल जलातीं युवतियां। सेंट मेरीज चर्च में कैंडल जलातीं युवतियां।
X
सेंट मेरीज चर्च में कैंडल जलातीं युवतियां।सेंट मेरीज चर्च में कैंडल जलातीं युवतियां।

  • रोमन कैथोलिक चर्च में माता मरियम के जन्म दिवस पर जलाया कैंडल

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2018, 02:43 PM IST

जमशेदपुर.  रोमन कैथोलिक चर्च में माता मरियम के जन्म दिवस पर आयोजित प्रार्थना सभा का शनिवार को समापन हो गया। इस दौरान ईसाई समुदाय के लोगों ने नवरोज प्रार्थना के बाद शांति जुलूस निकाल कर माता मरियम से आशीष मांगा। इस दौरान भक्तों ने मन्नत पूरी होने पर माता मरियम को ब्रेड चढ़ाया। टेल्को लुपिटा चर्च, गोलमुरी संत जोसेफ चर्च व बिष्टुपुर सेंट मेरीज चर्च में कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें समाज के हजारों लोग शामिल हुए।

 

फूलों की डोली में रखकर नगर भ्रमण कराया गया
संत जोसेफ चर्च गोलमुरी में शाम 5.30 बजे वीकर जनरल फादर डेविड विनसेंट ने मिस्सा बलिदान किया। इसके बाद चर्च परिसर से शांति जुलूस निकाला गया। माता मरियम की प्रतिमा को फूलों की डोली में रखकर नगर भ्रमण कराया गया। जुलूस में शामिल सभी भक्त हाथ में कैंडल जलाकर माता मरियम की आराधना करते चल रहे थे। माता मरियम को वेलांकन्नी भी कहा जाता है। तमिलनाडु के वेलांकन्नी में माता के दर्शन हुए थे। तभी से वेलांकन्नी कहा जाने लगा।

 

छोटे बच्चे माता की झांकी के आगे फूल बिखेरते रहे
सेंट मेरीज चर्च बिष्टुपुर में मरियम के जन्मोत्सव की शुरुआत पुरोहित दिलीप मरांडी द्वारा मिस्सा पूजन के साथ हुई। इसके बाद शोभायात्रा निकाली गई। छोटे बच्चे माता की झांकी के आगे फूल बिखेरते रहे। विश्व शांति को प्रार्थना की गई। इसका आयोजन द कैथोलिक तमिल महासभा की ओर से किया गया था। माता को भक्तों ने नारियल भेंट की। लोगों ने नारियल फोड़कर उसके टुकड़े पर कैंडल जलाकर मां का दर्शन किया। मौके पर सुनीता राव ने बताया तमिलनाडु के वेलांकन्नी में माता के दर्शन हुए थे। माता मरियम के जन्म दिवस पर जुलूस व मिस्सा बलिदान के बाद शाम को भोज का आयोजन चर्च हॉल में किया गया।

 

 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..