• Hindi News
  • Jharkhand
  • Jamshedpur
  • Jamshedpur News the villagers said from the world bank team the pipes were bursting the disruption in construction the water could not be found till may 25

विश्व बैंक की टीम सेे ग्रामीणों ने कहा-पाइप फट रही, निर्माण में हाे रही गड़बड़ी, 25 मई तक पानी नहीं मिला तो देंगे धरना

Jamshedpur News - विश्व बैंक के सहयोग से बनाए जा रहे गोविंदपुर जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का विश्व बैंक की सोशल डेवलेपमेंट...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:05 AM IST
Jamshedpur News - the villagers said from the world bank team the pipes were bursting the disruption in construction the water could not be found till may 25
विश्व बैंक के सहयोग से बनाए जा रहे गोविंदपुर जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का विश्व बैंक की सोशल डेवलेपमेंट स्पेशलिस्ट टीम ने निरीक्षण किया। टीम योजना के पूरा होने पर आम लोगों को होने वाले लाभ का जायजा लेने के लिए पहुंची। टीम में श्रीहरि व निशांत कुमार शामिल हैं। टीम शनिवार को बागबेड़ा वृहत जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का निरीक्षण करेगी।

विशेषज्ञों ने पेयजल व स्वच्छता विभाग के अधिकारियों को निरीक्षण कार्य से अलग रखते हुए सीधे लाभुकों से मिले। वहीं विश्व बैंक को रिपोर्ट सौंपने के लिए जरूरी डाटा तैयार किया। इस दौरान पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधियों ने जिप सदस्य सुनीता साह की अगुवाई में योजना के निर्माण हो रही विलंब पर विरोध जताया व ज्ञापन सौंपा। टीम को बताया- पेयजल व स्वच्छता विभाग व आईएलएफएस के अधिकारियों ने 134 करोड़ की योजना में बड़े पैमाने पर अनियमितता को अंजाम दिया है। जलापूर्ति के लिए पाइप लाइन बिछाते समय जिस मात्रा में बालू दिए जाने का प्रावधान है उस अनुपात में बालू नहीं बिछाया, इससे बार-बार पाइप में लीकेज होने के साथ पाइप फट जाता है। निर्माण कार्य में हर स्तर पर अनियमितता बरती जा रही है। पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधियों ने कहा - अगर 25 मई तक जलापूर्ति शुरू नहीं हुई तो 26 मई से गोविंदपुर पानी टंकी के समीप अनिश्चितकालीन धरना शुरू करेंगे।

गोविंदपुर जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का जायजा लेने पहुंची टीम।

सिटी रिपोर्टर | जमशेदपुर

विश्व बैंक के सहयोग से बनाए जा रहे गोविंदपुर जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का विश्व बैंक की सोशल डेवलेपमेंट स्पेशलिस्ट टीम ने निरीक्षण किया। टीम योजना के पूरा होने पर आम लोगों को होने वाले लाभ का जायजा लेने के लिए पहुंची। टीम में श्रीहरि व निशांत कुमार शामिल हैं। टीम शनिवार को बागबेड़ा वृहत जलापूर्ति योजना के निर्माण स्थल का निरीक्षण करेगी।

विशेषज्ञों ने पेयजल व स्वच्छता विभाग के अधिकारियों को निरीक्षण कार्य से अलग रखते हुए सीधे लाभुकों से मिले। वहीं विश्व बैंक को रिपोर्ट सौंपने के लिए जरूरी डाटा तैयार किया। इस दौरान पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधियों ने जिप सदस्य सुनीता साह की अगुवाई में योजना के निर्माण हो रही विलंब पर विरोध जताया व ज्ञापन सौंपा। टीम को बताया- पेयजल व स्वच्छता विभाग व आईएलएफएस के अधिकारियों ने 134 करोड़ की योजना में बड़े पैमाने पर अनियमितता को अंजाम दिया है। जलापूर्ति के लिए पाइप लाइन बिछाते समय जिस मात्रा में बालू दिए जाने का प्रावधान है उस अनुपात में बालू नहीं बिछाया, इससे बार-बार पाइप में लीकेज होने के साथ पाइप फट जाता है। निर्माण कार्य में हर स्तर पर अनियमितता बरती जा रही है। पंचायती राज व्यवस्था के प्रतिनिधियों ने कहा - अगर 25 मई तक जलापूर्ति शुरू नहीं हुई तो 26 मई से गोविंदपुर पानी टंकी के समीप अनिश्चितकालीन धरना शुरू करेंगे।

बागबेड़ा में जहां बिछाई पाइप लाइन सड़क का नहीं किया मरम्मत

बीस सूत्री कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति जमशेदपुर के अध्यक्ष राम सिंह मुंडा ने कहा कि बागबेड़ा गोविंदपुर नीर निर्मल पेयजल परियोजना के कार्यों में घोर अनियमितता बरती जा रही है। राज्य सरकार के मुख्य परियोजनाओं में से एक बागबेड़ा गोविंदपुर पेय जल परियोजना है। लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण क्षेत्र के 38 पंचायतों के लगभग 345 बस्तियों में पाइप लाइन बिछाया जाना है पर पेयजल व स्वच्छता विभाग के अधिकारियों के लापरवाही के कारण ब्रांच लाइन नहीं बिछाया जा सका है। सड़कों की मरम्मत नहीं हो सकी है।

X
Jamshedpur News - the villagers said from the world bank team the pipes were bursting the disruption in construction the water could not be found till may 25
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना