Hindi News »Jharkhand »Jamtara» लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, 7 घंटे रोड जाम

लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, 7 घंटे रोड जाम

भास्कर न्यूज | जामताड़ा/ मुरलीपहाड़ी नारायणपुर थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद की कार के धक्के से बाइक सवार दो लोगों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 02:45 AM IST

लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, 7 घंटे रोड जाम
भास्कर न्यूज | जामताड़ा/ मुरलीपहाड़ी

नारायणपुर थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद की कार के धक्के से बाइक सवार दो लोगों की मौत हो गई। नारायणपुर डाक बंगला के निकट घटित इस दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत मौके पर हो गई थी जबकि दूसरे युवक की मौत कुछ देर बाद हो गई। घटना नारायणपुर थाना से महज आधा किलोमीटर की दूरी पर गोविन्दपुर-साहेबगंज एडीबी सड़क पर शुक्रवार को होली की सुबह आठ बजे हुई है।

दुर्घटना में नारायणपुर निवासी 50 वर्षीय जयनारायण मंडल पिता स्व हरि मंडल की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। जबकि 25 वर्षीय प्रदीप मंडल पिता रतिलाल मंडल की मौत इलाज के लिए धनबाद ले जाने के क्रम में रास्ते में ही हो गई। घटना के बाद घटनास्थल पर काफी संख्या में लोग जुट गए तथा प्रशासन के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। एक साथ दो शव को सड़क पर रखकर आग जलाकर लोगों ने एडीबी सड़क को सात घंटे तक जाम कर दिया। आक्रोशित परिजन एवं आसपास के ग्रामीण थाना के सामने हंगामा करने लगे। इस दौरान लोगों ने पुलिस पर पथराव भी कर दिया। जिससे पुलिस को बल का भी प्रयोग करना पड़ा। हजारों की संख्या में नारायणपुर के लोगों ने दो लोगों के हुए मौत के दोषी दरोगा सुरेन्द्र प्रसाद की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। भादवि की धारा 302 के तहत मामला दर्ज करने की मांग को लेकर उत्तेजित लोग और परिजन थाना मोड़ पर सड़क के बीच बैठकर आपसी सहमति और मांगों को प्रशासन के समक्ष रखा।

थाना प्रभारी की गाड़ी में मिली शराब

की बोतल देख लोगों का फूटा गुस्सा

आक्रोशित लोगों ने दारोगा के क्षतिग्रस्त वाहन जेएच 10 एएफ 5392 में शराब की बोतल देखकर और आक्रोशित हो गए। उनकी कार में शराब की बोतल के अलावा ड्राई फ्रूट्स तथा पुलिस पदाधिकारी का आईडी कार्ड भी मिला। हालांकि शराब की बोतल का ढक्कन टूटा हुआ था। लोगों का कहना था कि प्रशासन ने होली के दो दिन पहले शराब बंदी किया था। लोगों के लिए यह ड्राई-डे घोषित किया गया तो फिर थाना प्रभारी के वाहन में शराब क्यों थी। अनुमंडल पदाधिकारी जामताड़ा नवीन कुमार ने सभी लोगों के साथ हो रहे समझौते में यह स्पष्ट कर दिया कि एक पुलिस अफसर की गाड़ी से आपत्तिजनक समान का बरामद होना निश्चित रूप से चिन्ता का विषय है।

हादसे के बाद सड़क जाम करते आक्रोशित लोग।

थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद का कराया गया मेडिकल जांच

घटना के बाद सुरेंद्र प्रसाद को जामताड़ा लाया गया। बाद में एसपी के निर्देश पर मेडिकल टीम गठित कर उनकी जांच करायी गयी। जांच के लिए गठित टीम में सदर अस्पताल जामताड़ा के उपाधीक्षक डॉ. डीसी मुुंशी, डाॅ. अनूप कुमार तथा डाॅ. सुबाेध कुमार शामिल थे। डॉ. मुंशी ने बताया कि सुरेंद्र प्रसाद एवं अन्य की मेडिकल जांच की गई। जांच के क्रम में उनके खून में अल्कोहल की मात्रा नहीं मिली है। चिकित्सकों ने सुरेंद्र प्रसाद को एक्स रे कराने की सलाह दी है।

वार्ता में इन मांगों पर बनी सहमति |पारिवारिक लाभ के तहत मिलेगा लाभ, पीएम आवास पर अधिकारियों ने दी मंजूरी, पारा टीचर या कंप्यूटर ऑपरेटर पर होगी मृतक के आश्रित की नियुक्ति, मुख्यमंत्री स्व विवेक योजना के तहत आश्रित परिवार को मिलने वाली राशि की अनुशंसा उपायुक्त से कराकर राज्य को भेजा जाएगा। मामले के दोषी थाना प्रभारी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज किया जाएगा।

आक्रोशित ग्रामीणों व परिजनों की यह थी मांगें

दोषी थाना प्रभारी सुरेन्द्र प्रसाद को निलंबित कर गिरफ्तार करने, दोषी पर 302 का मुकदमा चलाने, पीड़ित परिवार के आश्रित को 15 लाख रुपए मुआवजा की राशि तत्काल देने, मृतक के आश्रित को सरकारी नौकरी देने, पीएम आवास तथा सभी आश्रितों को पेंशन देने की मांग शामिल है।

एक साथ जलायी गयीं दोनों की चिताएं|घटनाके बाद हुए समझौते के बाद पोस्टमार्टम कर जैसे ही दोनों शव नारायणपुर लाया गया। एक बार फिर परिजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। दोनो शवों को बराकर नदी पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम यात्रा में नारायणपुर सहित सबनपुर सलगाडीह तथा मतवाला के लोग शामिल रहे। दोनों की चिताएं एक साथ चलाई गई।

वार्ता के बाद सड़क से हटाया गया शव

अधिकारियों के साथ वार्ता के बाद सड़क से शव हटाया गया। जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम कराया गया। मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी नवीन कुमार, पूज्य प्रकाश, इंसपेक्टर बाल्मीकि सिंह, थाना प्रभारी रवीन्द्र सिंह, बीडीओ जहीर आलम, नपं अध्यक्ष बीरेंद्र मंडल, अशोक मंडल आदि थे।

घटना के विरोध में थाना के सामने धरना पर बैठे ग्रामीण।

एसपी ने की घटना की जांच

मुरलीपहाङी | पुलिस अधीक्षक डाॅ जया राय शुक्रवार को नारायणपुर में हुई घटना को लेकर नारायणपुर थाना पहुंचकर लंबित कांडो की समीक्षात्मक किया। समीक्षा के दौरान कुछ हीं पदाधिकारी उपस्थित थें। साथ ही शुक्रवार को होली के दिन हुए दुर्घटना को लेकर जानकारी तथा सत्यता की जांच पड़ताल की गयी। इस मौके पर सुनील कुमार चौधरी, सुबेदार सिंह, धनंजय कुमार सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी बैठक में शामिल थे।

क्या कहते हैं अधिकारी

सड़क जाम करनेवालों और पत्थरबाजी करनेवालों की जांच की जा रही है। चिन्हित कर उपद्रवी तत्वों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज होगी।'' नेहा बाला, प्रशिक्षु डीएसपी।

थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। साथ ही तत्काल प्रभाव से लाईन हाजिर कर दिया गया है।'' डॉ. जया राय, एसपी, जामताड़ा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jamtara News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, 7 घंटे रोड जाम
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jamtara

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×