पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रलोभन देकर तोड़-मरोड़ करना बीजेपी की आदत

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख एवं जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी शनिवार को जिले के कई कार्यक्रमों में शामिल हुए। इस दौरान पोसोई में स्थापित भीमराव अंबेडकर मूर्ति का अनावरण किया गया। जिसके बाद सत्य नारायण पांडे पब्लिक स्कूल धरमपुर में कार्यक्रम को संबोधित किया। मुख्य अतिथि कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, विधायक इरफान अंसारी, जिप अध्यक्ष दीपिका बेसरा मौजूद थीं। मंत्री व विधायक ने लोगों को महामारी कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करते हुए कहा कि एक-एक आदमी स्वयं काे सुरक्षित करने के लिए जागरूक रहे तो कोरोना से लड़ने में झारखंडवासी सफल रहेंगे। कोरोना से बचाव के लिए सबसे सटीक उपाय साफ-सफाई एवं सावधानी से ही बरती जा सकती है। बुजुर्ग लोगों को बादल पत्रलेख मास्क पहनाते हुए इस महामारी के विषय में बताएं एवं रविवार को जनता का कर्फ्यू को समर्थन करने की अपील की। विधायक ने एसएनपी पब्लिक स्कूल में फीता काटकर उद्घाटन किया।

मौके पर कहा कि धरमपुर में शिक्षा का बेहतर माहौल है। इससे गांव में निजी विद्यालयों का संचालन होना भविष्य को उज्जवल बनाने की दिशा दे रही है। निजी विद्यालयों के खुलने से गांव के बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल पाएगा और बच्चों का सर्वांगीण विकास होगा।

विधिक जागरूकता कैंप व लोक अदालत 31 तक रद्‌द

जामताड़ा | करोना वायरस को लेकर जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा सभी तरह का लीगल अवेयरनेस कैंप एवं लोक अदालत 31 मार्च तक रद्द कर दिया गया है। इस बात की जानकारी प्राधिकार के सचिव कुशेश्वर सिंकू ने देते हुए कहा कि उच्च न्यायालय के आदेश पर सभी तरह के लीगल अवेयरनेस कार्यक्रम एवं मध्यस्थता से संबंधित मामले तथा लोक अदालत 31 मार्च तक आयोजित नहीं की जाएगी।

शांति समिति की बैठक स्थगित

जामताड़ा | रामनवमी को लेकर 28 मार्च को आयोजित केंद्रीय शांति समिति की बैठक को स्थगित कर दिया गया है। उपायुक्त गणेश कुमार ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर केंद्रीय शांति समिति की बैठक को स्थगित किया गया है।

आज के समय में राजनीति में सुचिता व साधुवाद की बात करना बेमानी

सूबे के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख शनिवार को जामताड़ा पहुंचे और कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर हालचाल जाना। वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस्तीफा देने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि प्रलोभन देकर पार्टियों को तोड़ मरोड़ करना बीजेपी की आदत है। सिर्फ मध्य प्रदेश ही नहीं आधा दर्जन प्रदेशों में उन्होंने ऐसा किया है। उन्होंने कहा कि राजनीति में सुचिता, साधुवाद की जो बात होनी चाहिए वह अब नहीं रह गई है। अब अटल जी की भाजपा नहीं रह गई है। वही सीपी सिंह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जिन्होंने अपनी आधी जिंदगी विधायकी में गुजार दी। उनके द्वारा एक सम्मानित पार्टी के सम्मानित अध्यक्ष के बारे में टिप्पणी करना शोभा नहीं देता है। इससे सदन तथा आसन का भी अपमान हुआ है। इसलिए हमें लगता है कि आचरण में सुधार करना चाहिए नहीं तो आने वाली पीढिय़ां हमें जरूर कोसेगी।

कार्यक्रम में मंत्री बादल पत्रलेख व विधायक इरफान।
खबरें और भी हैं...