विस अध्यक्ष से ऊर्जा मित्रों ने कहा कंपनी कर रही है हमारा शोषण

Jamtara News - झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड द्वारा बिजली उपभोक्ताओं के मीटर रीडिंग एवं बिलिंग की जिम्मेवारी भले ही अन्य...

Feb 15, 2020, 07:41 AM IST
Nala News - energy friends told the chairman the company is exploiting us

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड द्वारा बिजली उपभोक्ताओं के मीटर रीडिंग एवं बिलिंग की जिम्मेवारी भले ही अन्य कंपनी के ऊपर सौंपा गया है। लेकिन उक्त कंपनी के अधीन सेवा दे रहे शिक्षित युवाओं का शोषण भी बेरोकटोक जारी है। उल्लेखनीय है कि विज्ञप्ति निकालकर एमडी डिजिट्रोनिक्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा उर्जा मित्रों की नियुक्ति की गई है।

अचरज की बात यह है कि बेरोजगारी का दंश झेल रहे उच्च शिक्षित युवाओं ने भी आवेदन देकर कंपनी के अधीन काम करने की सहमति जताई और बतौर ऊर्जा मित्र कार्य भी प्रारंभ किया। वर्ष 2017 से कार्य कर रहे इन शिक्षित उर्जा मित्रों को स्किल्ड लेबर का नहीं बल्कि अब तक अनस्किल्ड लेबर के जैसा ही मेहनताना दिया जाता है। कार्यरत इन उर्जा मित्रों में न तो कंपनी के खिलाफ कुछ कहने की क्षमता है और न ही कंपनी द्वारा शोषण प्रवृत्ति में सुधार कर सही मेहनताना देने संबंधी नीति बनाई गई है। ऊर्जा मित्र द्वारा उपभोक्ताओं के घर घर जाकर मीटर रीडिंग लेने के एवज में मामूली कमीशन मिलता है। 4-5 हजार रुपए कमीशन राशि से ही उन्हें बाइक में तेल डालकर क्षेत्र भ्रमण करना होता है जिससे परिवार को चलाना मुश्किल हो गया है। कंपनी द्वारा शोषित होने के कारण नाला क्षेत्र के उर्जा मित्रों ने शुक्रवार को स्थानीय विधायक सह झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो के आवास पर अपना दुखड़ा सुनाया। इस संबंध में अध्यक्ष को एक मांग पत्र सौंपते हुए कहा गया है कि ऊर्जा मित्र एवं कार्यरत सुपरवाइजर को अब तक नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है। 4-5 हजार मासिक हो रही आमदनी से उन्हें परिवार चलाने में काफी परेशानी हो रही है। कंपनी द्वारा उर्जा मित्रों के लिए निर्धारित सुविधा मानदेय, टीए आदि के बारे में न तो जानकारी दी जाती है और न ही बढ़ोतरी की जाती है। ऊर्जा मित्राें की मांग पर विस अध्यक्ष ने अाश्वासन दिया कि वे जल्द ही इस मामले में पहल करेंगे। इस अवसर पर पवन कुमार घोष, श्रवण कुमार यादव, विश्वजीत मंडल, आदित्य घोष, इंद्रजीत यादव, सुखमय राणा, स्वरूप कुमार शील, तापस कुमार मंडल, पवन बाद्यकर, अरविंद सिंह, लक्ष्मीकांत घोष आदि ऊर्जा मित्र काफी संख्या में उपस्थित थे।

गया है कि ऊर्जा मित्र एवं कार्यरत सुपरवाइजर को अब तक नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है। 4-5 हजार मासिक हो रही आमदनी से उन्हें परिवार चलाने में काफी परेशानी हो रही है। कंपनी द्वारा उर्जा मित्रों के लिए निर्धारित सुविधा मानदेय, टीए आदि के बारे में न तो जानकारी दी जाती है और न ही बढ़ोतरी की जाती है। ऊर्जा मित्राें की मांग पर विस अध्यक्ष ने अाश्वासन दिया कि वे जल्द ही इस मामले में पहल करेंगे। इस अवसर पर पवन कुमार घोष, श्रवण कुमार यादव, विश्वजीत मंडल, आदित्य घोष, इंद्रजीत यादव, सुखमय राणा, स्वरूप कुमार शील, तापस कुमार मंडल, पवन बाद्यकर, अरविंद सिंह, लक्ष्मीकांत घोष आदि ऊर्जा मित्र काफी संख्या में उपस्थित थे।

है। ऊर्जा मित्र द्वारा उपभोक्ताओं के घर घर जाकर मीटर रीडिंग लेने के एवज में मामूली कमीशन मिलता है। 4-5 हजार रुपए कमीशन राशि से ही उन्हें बाइक में तेल डालकर क्षेत्र भ्रमण करना होता है जिससे परिवार को चलाना मुश्किल हो गया है। कंपनी द्वारा शोषित होने के कारण नाला क्षेत्र के उर्जा मित्रों ने शुक्रवार को स्थानीय विधायक सह झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो के आवास पर अपना दुखड़ा सुनाया। इस संबंध में अध्यक्ष को एक मांग पत्र सौंपते हुए कहा

स्पीकर को आवेदन देते उर्जा मित्र।

X
Nala News - energy friends told the chairman the company is exploiting us

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना