• Home
  • Jharkhand News
  • Jamtara
  • रांची प्रदर्शनी में जामताड़ा के दिव्यांगों ने दिखाई प्रतिभा
--Advertisement--

रांची प्रदर्शनी में जामताड़ा के दिव्यांगों ने दिखाई प्रतिभा

जामताड़ा की दिव्यांग महिलाएं स्वरोजगार से जुड़कर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रही है। जिले के...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:10 AM IST
जामताड़ा की दिव्यांग महिलाएं स्वरोजगार से जुड़कर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रही है। जिले के फतेहपुर प्रखंड में प्रशिक्षण प्राप्त ये महिलाएं इन दिनों रांची प्रेस क्लब में आयोजित साइटसेवर परियोजना एवं झारखंड स्टेट लाईवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी में अपने द्वारा निर्मित सामानों का प्रदर्शन कर रही है। इस प्रदर्शनी में झारखंड के अलावे बिहार, मध्यप्रदेश, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश के दिव्यांग जन शामिल हुए हैं। विभिन्न प्रदेश से आए दिव्यांगजन रोजगार से जुडे स्टाल प्रदर्शनी में लगाया है।

जामताड़ा की इन दिव्यांगों को भारतीय स्टेट बैंक, आरसेटी, जामताड़ा ने प्रशिक्षण दिया था। अकिलबती आजीविका विकलांग स्वयं सहायता समूह एवं योगमाया आजीविका विकलांग स्वयं सहायता समूह, फतेहपुर द्वारा प्रेस क्लब जामताड़ा में लगाए गए स्टाल में सबसे ज्यादा भीड़ गुरूवार को देखी गयी।। गौरतलब है कि 19 फरवरी से 28 फरवरी तक फतेहपुर ब्लॉक में एसबीआई आरसेटी, जामताड़ा के तत्वाधान इन दोनों स्वयं सहायता समूहों के दिव्यांगों को पेपर कैरी बैग एवं लिफाफा निर्माण का प्रशिक्षण दिया गया था। चेतना विकास एवं आरसेटी के निरंतर प्रयास से यह मुमकिन हो पाया है कि आज दिव्यांग जन जीवन के मुख्य धारा से जुड़ स्वावलंबी बन समाज में अपनी भूमिका सुनिश्चित कर रहे है। दुमका से जयप्रकाश एसएचजी, उज्जवल एसएचजी से कैरी बैग, लिफाफा, अगरबत्ती स्टाल लगाया गया। दिव्यांगजनों द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण राज्य निःशक्ता आयुक्त सतीश चंद्रा ने किया। उनके साथ साइटसेवर के अंतरराष्ट्रीय सीईओ केरर्लिन हार्पर, जेएसएलपीएस के सीओओ परितोष उपाध्याय, राज्य कार्यक्रम प्रबंधक जेएसएलपीएस श्रीमन्त महापात्र, साइटसेवर के क्षेत्रीय निदेशक सुदिप्तो मोहंती, के अलावे चेतना विकास से दीपक कुमार, खागेश्वर मंडल, राजीव झा, विपद वरण, उमेश प्रसाद, माखन कुमार, एसएचजी से धुर्वाल महतो, लीला कुमारी, प्रतिमा कुमारी ने अहम भूमिका निभाई।

उपलब्धि

आरसेटी से प्रशिक्षण प्राप्त कर कागज से घरेलू उपकरण बनाकर प्रदर्शनी में सबका ध्यान खींचा

कागज से बने हैंड बैग दिखाती दिव्यांग महिला।

इन एसएचजी को मिली सराहना

जामताड़ा। आकिलबती आजीविका विकलांग स्वयं सहायता से प्रतिमा हांसदा, प्रदीप टुडू, हेमलाल टुडू, महादी हेम्ब्रम, बासुदेव हांसदा, योगमाया आजीविका विकलांग स्वयं सहायता समूह से दुर्बल महतो, सुभाष सिंह, दीपाली कुमारी, फतेहपुर जामताड़ा से कैरी बैग, लिफाफ, आगरबती तथा एनजीअाे से विपदवरण घोष, खागेश्वर मंडल ग्रुप के सभी सदस्य आरसेटी से प्रशिक्षण लेकर प्रोडक्ट तैयार कर रहे हैं।