माह व्यापी बैसाखी कीर्तन का समापन

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:26 AM IST

Jamtara News - भास्कर न्यूज| फतेहपुर/बिंदापाथर एक माह व्यापी बैसाखी कीर्तन का कुंज विलास के साथ संपन्न हो गया। बांग्ला नववर्ष...

Nala News - the end of month old baisakhi kirtan
भास्कर न्यूज| फतेहपुर/बिंदापाथर

एक माह व्यापी बैसाखी कीर्तन का कुंज विलास के साथ संपन्न हो गया। बांग्ला नववर्ष से एक महिना तक बैसाखी कीर्तन का आयोजन ग्रामीणों के द्वारा किया गया था। इस कीर्तन अनुष्ठान को नगर कीर्तन के नाम से भी जाना जाता है। जो बैशाख माह का अंत यानी जेठ माह के प्रारंभ में कुंज विलास की दौर शुरु हुआ था। क्षेत्र के फतेहपुर, जलांई, बिन्दापाथर, हरिराखा, डुमरिया,नाला, मोहनबॉक, मोहजुड़ी, कुलडंगाल, वड़वा, ढाड़, बाघमारा समेत सभी छोटे बड़े गांव में बैशाख की पहली तिथि से इस अनुष्ठान का आयोजन किया गया था जिसका समापन हाे गया। शुक्रवार को डुमरिया पंचायत के हरिराखा गांव में ग्रामीण कीर्तन मंडली इस धार्मिक कार्यक्रम के लिए ढोलक, मृदंग, खोल, करताल, बांसुरी आदि वाद्ययंत्र के साथ गांव का मंदिर में कीर्तन का प्रारंभ किया गया जो संपूर्ण गांव का भ्रमण कर कुंज विलास हुआ। इस दरम्यान भगवान श्रीकृष्ण और गौरांग महाप्रभु से संबंधित गीत के साथ झुमते हुए हर कोई भाव विभोर हो उठते हैं। निताई-गौर एकबार एसो है, आई देखी मन मिलिए दूजन हरिनामेर हार गांथी रे आदि प्राचीन गीत गाते हुए कीर्तन मंडली और साथ चल रहे श्रोता भक्त भी झूम उठते हैं। इस कीर्तन का दर्शन श्रवण के लिए गांव के सभी लोग निकले हैं तथा भक्तिपूर्ण प्रणाम के साथ गांव समाज की मंगल कामना करते हैं। कार्यक्रम के अंत में कच्चा चना, खीरा, फल आदि प्रसाद के रूप में वितरण किया गया। मौके मनोज कुमार पांडेय, पिंटू पांडेय, विष्णु पांडेय, रवि पांडेय, प्रसनजित पांडेय, अमरनाथ पांडेय, राहुल पांडेय, सुबल पांडेय, जय पांडेय, अमन पांडेय, रितेश बदरीनाथ पांडेय, सोमनाथ, सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

कीर्तन के समापन में गांव के लोग।

X
Nala News - the end of month old baisakhi kirtan
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543