• Home
  • Jharkhand News
  • Jhariya
  • बच्चों को सभी क्षेत्रों में किया जा रहा ट्रेंड: डाॅ. डीके सिंह
--Advertisement--

बच्चों को सभी क्षेत्रों में किया जा रहा ट्रेंड: डाॅ. डीके सिंह

सामाजिक व शैक्षणिक संस्था सफल इंडिया कांड्रा सिंदरी की ओर से रविवार को सिंदरी के ऑफिसर्स क्लब रोहराबांध में सफल...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:45 AM IST
सामाजिक व शैक्षणिक संस्था सफल इंडिया कांड्रा सिंदरी की ओर से रविवार को सिंदरी के ऑफिसर्स क्लब रोहराबांध में सफल ओलम्पियाड का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि बीआईटी सिंदरी के निदेशक डॉ. डीके सिंह ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया। मौके पर डॉ सिंह ने कहा कि सफल इंडिया का काम सराहनीय है। गरीब एवं ग्रामीण बच्चों को शिक्षा के साथ अन्य क्षेत्रों में भी ट्रेंड करने का कार्य सफल इंडिया द्वारा किया जा रहा है। डॉ सिंह ने कहा कि आईआईटी में सफलता हासिल करने वालों में सबसे अधिक ग्रामीण, गरीब एवं बीपीएल सूची के बच्चों की संख्या काफी है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय टेक्नोलॉजी का है। ऐसे में बच्चों के मार्गदर्शन की विशेष जिम्मेदारी अभिभावकों की है।

कार्यक्रम को संबोधित करते डाॅ. डीके सिंह।

इन प्रतिभागियों को

मिला सम्मान

विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। सतविंदर सिंह, किरण कुमारी, आदित्य मंडल, आलोक राय, राजकुमार, नेहा को ओलम्पियाड प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। मंच संचालन निष्ठा, पल्लवी, जिया व दिव्या ने आकर्षक तरीके से किया। रंजीत कुमार, एफसीआई के यूनिट प्रभारी देवदास अधिकारी, गिरिधारी लाल, मारवाड़ी महिला समिति की किरण गोयल, सुनीता अग्रवाल, मारवाड़ी युवा मंच झरिया की अध्यक्ष सीमा अग्रवाल, सफल इंडिया के सचिव प्रदीप महतो,डॉ एमके तिवारी, प्रो अनिल आशुतोष, संस्था के को ऑर्डिनेटर बिश्वजीत पोद्दार, अधिवक्ता राधेश्याम गोश्वामी, प्रदीप महतो आदि मौजूद थे।

भास्कर न्यूज|सिंदरी

सामाजिक व शैक्षणिक संस्था सफल इंडिया कांड्रा सिंदरी की ओर से रविवार को सिंदरी के ऑफिसर्स क्लब रोहराबांध में सफल ओलम्पियाड का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि बीआईटी सिंदरी के निदेशक डॉ. डीके सिंह ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया। मौके पर डॉ सिंह ने कहा कि सफल इंडिया का काम सराहनीय है। गरीब एवं ग्रामीण बच्चों को शिक्षा के साथ अन्य क्षेत्रों में भी ट्रेंड करने का कार्य सफल इंडिया द्वारा किया जा रहा है। डॉ सिंह ने कहा कि आईआईटी में सफलता हासिल करने वालों में सबसे अधिक ग्रामीण, गरीब एवं बीपीएल सूची के बच्चों की संख्या काफी है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय टेक्नोलॉजी का है। ऐसे में बच्चों के मार्गदर्शन की विशेष जिम्मेदारी अभिभावकों की है।